featured यूपी हेल्थ

ऑक्सीजन प्लांट पर  प्रभारी जिलाधिकारी ने किया औचक निरीक्षण

untitled 23 ऑक्सीजन प्लांट पर  प्रभारी जिलाधिकारी ने किया औचक निरीक्षण

लखनऊ। कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज में लगातार ऑक्सीजन के कारण आ रही समस्या को देखते हुए  गुरुवार को  प्रभारी जिलाधिकारी डा. रोशन जैकब ने जनपद के  पांच बड़े ऑक्सीजन उत्पादन इकाइयों का औचक निरीक्षण किया  । निरीक्षण में सभी संचालकों को अतिरिक्त मैन पावर के साथ काम करने के लिए निर्देशित किया है।

समस्त निर्माण इकाइयों को मैनपावर बढ़ा कर उत्पादन बढ़ाने के निर्देश

गुरुवार को प्रभारी जिलाधिकारी ने अपने निरीक्षण की शुरुआत मुरारी गैसेज प्राइवेट लिमिटेड नादर गंज तहसील सरोजनीनगर से की । जिसके बाद श्रीनाथ जी गैसेज, नादर गंज, पिपरहट गैसेज दरोगा खेड़ा, मैसर्स स्टार ऑक्सीजन गैस प्राइवेट लिमिटेड कृष्णा नगर व औध फिलिंग सेंटर तालकटोरा ऐशबाग़ का निरीक्षण किया। उनके द्वारा किये गए इस निरीक्षण में अवध फिलिंग सेंटर को छोड़ कर सभी इकाइयों में ऑक्सीजन का उत्पादन होता मिला ।

जिलाधिकारी ने सभी उत्पादन इकाइयों का निरीक्षण किया और निर्देश दिया कि सभी उत्पादन ईकाई आवश्यकतानुसार मैनपवर बढ़ा कर ऑक्सीजन का उत्पादन दुगना करने का प्रयास करें। साथ ही  उन्होंने वरीयता के आधार पर सबसे पहले शासकीय व प्राइवेट हास्पिटलो को ऑक्सीजन उपलब्ध कराई जाए।  इसके बाद अगर किसी व्यक्ति को किसी रोगी के लिए ऑक्सीजन चाहिए है तो वह व्यक्ति आधार कार्ड, डॉक्टर का प्रिस्क्रिप्शन और डॉक्टर का नाम आदि विवरण को दिखा कर ऑक्सीजन प्राप्त कर सकता है।

बड़ी संख्या में किसी एक व्यक्ति को नही मिलेगा सिलेंडर  

शहर में ऑक्सीजन गैस सिलेंडर की खरीदारी को लेकर हो रही कालाबाजारी पर रोक लगाने के लिए एक ही व्यक्ति को एक से अधिक  सिलेंडर न देने में निर्देश दिए हैं।   वहीं  कालाबाज़ारी करने वालो पर कड़ी नजर रखने के साथ पकड़े जाने पर एपेडेमिक एक्ट के तहत कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश हैं।

Related posts

ZOOM CALL : 3 मिनट की CALL में गई 900 लोगों की नौकरी

Rahul

कानपुर: करोड़पति एसटीएफ के सिपाही पर गिरी गाज, पढ़िए पूरी खबर

Shailendra Singh

दुनिया की सबसे पहली कोरोना की वैक्सीन बनकर हुई तैयार, जानिए रूस की दवाई में कितना दम?

Rozy Ali