September 29, 2021 12:54 am
featured मध्यप्रदेश

लॉकडाउन: कलेक्टर ने लोगों से अपील की है कि कुछ दिन आलू-प्याज खाकर समय बिताएं

इंदौर लॉकडाउन: कलेक्टर ने लोगों से अपील की है कि कुछ दिन आलू-प्याज खाकर समय बिताएं

इंदौर। इंदौर में बढ़ते कोरोना के मरीजों को देखते हुए नए कलेक्टर मनीष सिंह ने सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। अब यहां संपूर्ण लॉकडाउन रहेगा, कलेक्टर ने लोगों से अपील की है कि कुछ दिन आलू-प्याज खाकर समय बिताएं, क्योंकि सब्जियां कई हाथों से होते हुए आप तक पहुंचती है। उधर पिछले 24 घंटे के भीतर मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस (कोविड-19) का एक नया मरीज ग्वालियर में मिला है। 

बता दें कि प्रदेश में अब इस बीमारी से संक्रमित लोगों की संख्या 34 हो गई है। इंदौर व उज्जैन में एक-एक मरीज की मौत हो चुकी है। 1039 लोग अपने घरों में आइसोलेशन में हैं। भोपाल में अब तक तीन पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं। सभी की हालत ठीक है। उनका एम्स में इलाज चल रहा है। यहां से भेज गए 14 सैंपलों की जांच शनिवार को एम्स में हुई। सभी की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। जिले से अब तक कुल 65 सैंपलों की जांच कराई जा चुकी है।

शराब फैक्टरी में बनाया जा रहा सैनिटाइजर

खरगोन जिले के बड़वाह में स्थित शराब फैक्टरी में सैनिटाजर तैयार किया जा रहा है। प्रतिदिन चार से साढ़े चार हजार लीटर सैनिटाइजर तैयार किया जा रहा है। शराब फैक्टरी में तैयार सैनिटाइजर इंदौर स्थित गोदाम में भेजा जा रहा है। जहां से इसका वितरण किया जाएगा।

इंदौर कलेक्टर बोले- आलू प्याज से काम चलाएं

इंदौर के नए कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा किदोपहर से शहर में संपूर्ण लॉकडाउन रहेगा और इसकी इसकी अवधि बढ़ाई जाएगी। संभवत सप्ताह भर से 15 दिन के बीच का यह लॉक डाउन होगा। इस दौरान कलेक्टर ने कहा कुछ दिन सूखे अनाज और आलू प्याज से लोग काम चलाएं हरी सब्जियों के पीछे ना भागें। कई हाथों से गुजर कर यह सब्जी आप तक पहुंचती हैं इसीलिए कुछ दिन थोड़ी परेशानी भी उठाएंगे तभी स्थिति नियंत्रण में आएगी। वर्तमान में इंदौर कोरोना अपर सेकंड स्टेज पर पहुंच चुका है।


कर्फ्यू का होगा सख्ती से पालन

इंदौर में नए कलेक्टर मनीष सिंह ने कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए कड़े फैसले लेना शुरू कर दिए है। दोपहर एक बजे से लॉकडाउन-कर्फ्यू का सख्ती से पालन किया जाएगा। पूर्व कलेक्टर द्वारा लगाए गए आड-ईवन का आदेश भी निरस्त कर‍ दिया गया है। सरकारी मेडिकल कॉलेज में जांच की सुविधा है। ज्यादा संदिग्धों की जांच की जाती है तो संक्रमित जल्दी पकड़े जा सकेंगे।

Related posts

लश्कर-ए-तैयबा के आठ आतंकियों को उम्र कैद की सजा

Rani Naqvi

कोरोना की दावाई बनाना बाबा रामदेव को पड़ा भारी हुआ केस दर्द..

Mamta Gautam

गढ़वाल आयुक्त डॉ. बीवीआरसी पुरूषोत्तम ने कोटद्वार तहसील परिसर का किया निरीक्षण

Rani Naqvi