Terrorist

Terrorist Attack In Lucknow: लखनऊ के काकोरी से पकड़े गए दो संदिग्ध आतंकियों से एटीएस लगातार पूछताछ कर रही है। एटीएस पूछताछ में लगातार रोज नए खुलासे कर रही है। आतंकी संगठन अंसार गजवातुल हिंद का मकसद सिर्फ और सिर्फ ब्लास्ट करके दहशत फैलाना है। इनका मकसद धार्मिक जुलूस और भीड़ वाले एरिया में ब्लास्ट करना था। मिनहाज और मुशीर इसी संगठन के लिए काम कर रहे थे। मिनहाज ने लखनऊ में भीड़ भाड़ वाले एरिया की रेकी भी की थी। वह अपने आकाओ से अजीब तरह के कोडवर्ड में बात करता थै जैसे खटमल, उड़न तश्तरी, प्लाइट।

संदिग्ध की डायरी से खुलासा

एटीएस को मिनहाज के पास एक डायरी मिली है। इस डायरी में कई तरह के कोडवर्ड लिखे हुए थे। इन कोडवर्ड को एटीएस ने डीकोड किया है। अभी भी एटीएस कई कोडवर्ड को सुलझाने का प्रयास कर रही है।

बड़ी साजिश की फिराक में थे

एटीएस ने 11 जुलाई को लखनऊ के काकोरी क्षेत्र से दो संदिग्धों को अरेस्ट किया था। एटीएस ने बताया था कि यह दोनों यूपी सहित लखनऊ में बड़ी साजिश की फिराक में थे। लेकिन इन्हे पहले की पकड़ लिया गया। कोर्ट में पेश करने के बाद एटीएस को इनदोनों की 14 दिन की रिमांड मिल गई। एटीएस ने इन दोनों के ठिकानों पर छापेमारी की और कई संदिग्ध चीजों की बरामदगी भी की।

कोड वर्ड का कर रहे थे इस्तेमाल

एटीएस को मिनहाज के पास से एक डायरी मिली जिसमें कई तरह के कोडवर्ड लिखे हुए थे। डायकरी में लिखे शब्दों का इस्तेमाल कश्मीर और पाकिस्तान के लोगों से बातचीत के लिए किया गया था। उड़न तश्तरी शब्द का इस्तेमाल ई-रिक्शा के लिए किया गया। फोन पर बात करने लिए फ्लाइट शब्द का इस्तेमाल किया गया। मिनहाज से मिलने आ रहे दो कमांडरों के लिए कहा गया दोस्त आ रहे है गोश्त पकाओ

हलमंडी यूपी के संभल का रहने वाला है

एटीएस ने जानकारी देते हुए कहा इन्होने विशेष तारीखों का चुनाव किया था। इस दिन धार्मिक जुलूस निकाले जाते है। ऐसे समय पर यह धमाके और हिंसा भड़काने के लिए साजिश कर रहे थे। AQIAS का प्रमुख उमर हलमंडी यूपी के संभल का रहने वाला है। कंमाडर असीम के मारे जाने के बाद हलमंडी कमांडर बना था। हलमंडी ने पश्चिमी यूपी में अपनी जडे मजबूत कर ली है।

लखनऊ में 25 जुलाई से शुरू हो रही फुटबॉल लीग, 46 टीमें लेंगी हिस्सा

Previous article

दावा: यूपी के किसी भी जिले में नहीं बने दिव्यांग प्रमाण पत्र

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured