September 26, 2021 12:33 am
featured जम्मू - कश्मीर

स्वतंत्रता दिवस से पहले आतंकी हमले तेज, सुरक्षाबलों ने अब तक 5 आतंकी किए ढेर

jammu and kashmir 1 स्वतंत्रता दिवस से पहले आतंकी हमले तेज, सुरक्षाबलों ने अब तक 5 आतंकी किए ढेर

भारत खबर, राजेश विद्यार्थी

स्वतंत्रता दिवस पर पाक परस्त आतंकियोें ने घाटी में अपनी गतिविधियाँ अचानक बढ़ा दी हैं। पिछले एक सप्ताह में ही आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर नौ हमले किए।

जम्मू कश्मीर। स्वतंत्रता दिवस पर पाक परस्त आतंकियोें ने घाटी में अपनी गतिविधियाँ अचानक बढ़ा दी हैं। पिछले एक सप्ताह में ही आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर नौ हमले किए। सुरक्षा बलों ने मुस्तैदी दिखाते हुए हिजबुल मुजाहिदीन कमांडर सहित पांच आतंकी ढेर किए और 11 ओवर ग्राउंड वर्करों को पकड़े। आतंकियों को हवाला राशि पहुंचाने वाले नौ लोगों को भी जम्मू कश्मीर पुलिस ने धर दबोचा है और उनसे लाखों रूपये बरामद किए। आतंकियों ने सोपोर, बारामुला हाई वे, पुलवामा में सेना के गश्ती दल पर हमला किया और ग्रेनेड फेंका। सोपोर में अंधाधुंध फ़ायरिंग करके आतंकी फरार हो गए।

पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह के अनुसार हिजबुल मुजाहिदीन कमांडर आजाद लल्हाल का मारा जाना एक बड़ी कामयाबी है। लल्हाल के खिलाफ कश्मीर में छह मामले दर्ज हैं और वह रियाज नायकू के मारे जाने के बाद कमांडर बनाया गया था। आतंकियों की बढ़ती घटनाओं को लेकर सुरक्षा बलों ने आपरेशन बढ़ा दिए हैं। कुलगाम में ही तीन आतंकियों को मार गिराया था। 

https://www.bharatkhabar.com/will-sanjay-dutt-not-be-seen-in-kgf-2/

स्वतंत्रता दिवस समारोह स्थल बख्शी स्टेडियम में थ्री लेयर  सुरक्षा व्यवस्था की गई है। स्टेडियम पहुंचने से पहले चैक चैराहों से सुरक्षा जांच के घेरे से निकला होगा। उसके बाद कोविड टेस्ट के बाद ही अधिकारियों को  स्टेडियम के अंदर जाने की अनुमति होगी। सीआरपीएफ और जम्मू कश्मीर पुलिस के सिक्योरिटी विंग की जांच घेरे से भी गुजरना होगा। जम्मू श्रीनगर और श्रीनगर लेह हाई वे पर सुरक्षा व्यवस्था की है। आतंकियों की लगातार हमले की करने की योजना को असफल बनाने के लिए विशेष नाके लगाए गए हैं और सुरक्षा बलों की पेट्रोलिंग भी बढ़ा दी गई है।

कासो से खंगाला जा रहा क्षेत्र

सुरक्षा बलों ने कार्डन एंड सर्च आपरेशन ‘कासो‘ बढ़ा दिया है। सेना, सीआरपीएफ घाटी  प्रमुख सड़कों और आसपास के बाग बगीेचों में सर्च कर रही है। दिन रात चल रहे कासो के तहत ग्रामीण क्षे़त्रों को भी खंगाला जा रहा है। आतंकी भी दूर से ही सुरक्षा बलों पर हमला करने की फिराम में रहते हैं और ग्रेनेड दागकर भागने की रणनीति के तहत काम कर रहे हैं। किसी भी संदिग्ध या आतंकी सूचना पर सुरक्षा बल तुरंत कार्रवाई कर रहे हैं।

स्टेडियम के बाहर धारा 144 लागू 

जम्मू कश्मीर में स्वतंत्रता दिवस का मुख्य समारोह सर्दियों की राजधानी श्रीनगर में कराया जाता है। हालांकि इस बार घाटी में बंद नहीं है और प्रशासन ने भी कोई कृफर्यु नहीं लगाया है। श्रीनगर डीसी डा शाहिद इकबाल के अनुसार स्वतत्रता दिवस पर स्टेडियम के बाहर धारा 144 लगाई है।  कोरोना की वजह से ही समारोह में केवल प्रमुख लोग ही बख्शी स्टेडियम में पहुंचेंगे। सेना, बीएसएफ, जम्मू कश्मीर पुलिस बैंड के अलावा जवान परेड करेगे और तिरंगे को सलामी देंगे। सूचना विभाग के भी सांस्कृतिक विंग अपनी कला का प्रदर्शन करेंगे।  

एलजी फहराएंगे तिरंगा

जम्मू कश्मीर के दूसरे एलजी मनोज सिन्हा पहली बार घाटी में स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगा फहराएंगे। ऐसा राज्य के इतिहास में पहली बार होगा। जब एलजी 15 अगस्त को मुख्य समारोह में परेड का निरीक्षण करेंगे। पिछले साल 31 अक्तूबर को राज्य के पहले एलजी गिरीश चंद्र मुर्मु ने पदभार संभाला था। नौ महीेने कार्यकाल के बाद मुर्मु ने इस्तीफा  दे दिया। राष्ट्रपति ने छह अगस्त को नए एलजी मनोज सिन्हा की एलजी के तौर पर तैनाती कर दी। नए एलजी के बुधवार को कश्मीर वापस लौट आए हैं। दिल्ली में राष्ट्रपति रामनाथ, रक्षा मंत्री राजनाथ ंिसंह और जम्मू कश्मीर के प्रभारी राम माधव के अलावा आरएसएस के प्रमुख नेताओं से मिले।

 

Related posts

यूपी आरंभ: कुछ नया करने की सोच रहे हैं तो सरकार है आपके साथ, इस तरह शुरू कर सकते हैं अपना स्टार्टअप

Pradeep Tiwari

ग्रेनो अथॉरिटी के सीईओ के खिलाफ एफआईआर के आदेश साथ ही विभाग के खाते सील

piyush shukla

मेरठ के मेडिकल अस्पताल की इन तस्वीरों ने खोली डॉक्टरों और सफाई कर्मियों की पोल

Shubham Gupta