featured देश राज्य

आतंकी मॉड्यूलः संदिग्धों का रामजन्मभूमि को दहलाने का था प्लान

रामजन्मभूमि.... आतंकी मॉड्यूलः संदिग्धों का रामजन्मभूमि को दहलाने का था प्लान

एनआईए (नेशनल इनवेस्टिगेटिव एजेंसी) द्वारा पकड़ें गए 10 संदिग्ध आतंकीयों को पुलिस ले कोर्ट ले जा रही है। NIA की इस बड़ी कामयाबी पर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इसको बड़ी उपलब्धि बताया है। गृहमंत्री ने कहा कि एनआईए की ये बहुत बड़ी कामयाबी है। राजनाथ सिंह ने एनआईए को इस सफलता के लिए बधाई दी है।एनआईए ने भारत में इस्लामिक स्टेट के एक बड़े मॉड्यूल ‘हरकत उल हर्ब ए इस्लाम’ की बड़ी आतंकी साजिश का पर्दाफाश किया है। बता दें कि बुधवार को NIA ने 10 संदिग्धो को आतंकी साजिश के आरोप में गिरफ्तार किया है। अब इन 10 संदिग्ध आतंकियों को पुलिस ले कोर्ट ले जा रही है।

 

रामजन्मभूमि.... आतंकी मॉड्यूलः संदिग्धों का रामजन्मभूमि को दहलाने का था प्लान
आतंकी मॉड्यूलः संदिग्धों का रामजन्मभूमि को एक बार फिर दहलाने का था प्लान

इस भी पढ़ेंःएनआईएमएचआर,भोपाल की बजाय सिहोर जिले में खुलेगा, कैबिनेट ने दी स्वीकृति

गौरतलब है कि इस आतंकी साजिश के भंडाफोड़ को बाद कई खुलासे हो रहे हैं। हाल ही में खुलासा हुआ कि ये आतंकी मॉड्यूल रामजन्मभूमि को एक फिर दहलाना चाहता था। पकड़े गए संदिग्ध दिल्ली में 26 जनवरी के पहले बड़े पैमाने पर हमले की तैयारी में जुटे थे। आतंकी आरोपियों के पास से बड़ी मात्रा में हथियारों का जखीरा बरामद हुआ है। जिसमें बम बनाने का सामान, रॉकेट लॉन्चर और हथियार मिले हैं। इसकी जानकारी NIA ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके दी है।

 

संदिग्धों से बरामद  की गई विस्फोटक सामग्री

एनआईए के आईजी, आलोक मित्तल ने के मुताबिक 10 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है। गिरफ्तार किए गए संदिग्धों में से 5 दिल्ली के और 5 उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। इन आतंकी आरोपियों के पास से बड़ी मात्रा में हथियार बरामद हुए हैं। एनआईए के मुताबिक संदिग्ध आतंक की  बड़ी साज़िश को अंजाम देने वाले थे। एनआईए ने कहा कि ये लोग जल्द हमला करने वाले थे और रिमोट कंट्रोल से ब्लास्ट की तैयारी थी। एक ग्रेनेड लॉन्चर, 17 पिस्तौल, 25 किलो केमिकल, 120 अलार्म घड़ियां बरामद हुई हैं। NIA के अनुसार फिदायीन हमले की भी तैयारी थी और ‘फिदायीन हमले के लिए आतंक के आरोपी जैकेट बना रहे थे।

इसे भी पढ़ेंःचुनाव से पहले हाफिज की मुश्किल बढ़ी, एमएमएल आतंकी संगठन घोषित

आपको बता दें कि बुधवार की सुबह लगभग 4 बजे जब लोग सो रहे उस वक्त एनआईए, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल और यूपी एटीएस की कई टीमें एक साथ दिल्ली और यूपी में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के नए मॉड्यूल ‘हरकत उल हर्ब ए इस्लाम’ से जुड़े लोगों के ठिकानों पर छापेमारी कर रही थीं। मालूम हो कि छापेमारी दिल्ली के जाफराबाद में 6 जगहों, इसके अलावा मेरठ, अमरोहा, लखनऊ और हापुड़ में 17 जगहों पर पूरे दिन चलती रही। छापेमारी में लगभग 150 लोग शामिल थे। कुल 16 संदिग्ध पकड़े गए जिसमें दिल्ली से 5 और यूपी से 5 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया था।

महेश कुमार यादव

Related posts

गोरखपुर में 25 साल के एक शख़्स की पीट-पीटकर कर दी हत्या

Kalpana Chauhan

जाधव मामले में 13 सितंबर तक भारत को देना होगा जवाब

Pradeep sharma

भाजपा करेगी परिवर्तन यात्रा की शुरुआत, अमित शाह दिखाएंगे हरी झंडी

shipra saxena