तलाक पर तेज प्रताप ने तोडी चुप्पी कहा- मैं घुट-घुट कर नहीं जी सकता

नई दिल्ली: बिहार के सबसे बड़े राजनीतिक परिवार लालू परिवार की कलह कोर्ट तक पहुंच चुकी है. तेज प्रताप यादव ने कल पटना की अदालत में पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक की अर्जी दाखिल की. सवाल उठ रहे हैं कि आखिर करीब पांच महीने पहले हुई शादी के बाद बात तलाक तक कैसे पहुंच गई?

तेजप्रताप यादव

मैं घुट-घुट कर नहीं जी सकता

इसपर ऐश्वर्या और लालू परिवार अब तक चुप्पी साधे हुए है. इस बीच रांची में पिता लालू यादव से मिलने से ठीक पहले तेज प्रताप ने तलाक पर पत्रकारों से कहा, ”मैं घुट-घुट कर नहीं जी सकता, इसका कोई फायदा नहीं है. इसलिए कोर्ट में तलाक के लिए अर्जी दी है. हम इसकी लड़ाई लड़ेंगे.’

पत्नी के व्यवहार से दुखी हूं

आरजेडी नेता तेज प्रताप ने अपनी अर्जी में लिखा गया है कि दांपत्य जीवन में उन्हें पत्नी के व्यवहार से काफी दुख पहुंचा है इसलिए वे तलाक लेने का फैसला कर रहे हैं. तेज प्रताप की तलाक की अर्जी एकतरफा है यानि ऐश्वर्या ने तलाक में अपनी सहमति नहीं दी है.

29 नंवबर को होगी सुनवाई

तेजप्रताप ने पटना व्यवहार न्यायालय के फैमिली कोर्ट में तलाक की अर्जी दी है, जिसे अदालत ने सूचीबद्ध कर लिया है. अदालत ने इस अर्जी को सूचीबद्ध करते हुए केस नंबर 1208/2018 देते हुए इस मामले की अगली सुनवाई की तारीख 29 नवंबर मुकर्रर की है.

तेज प्रताप यादव ने दी तलाक की अर्जी, छह महीने पहले हुई थी शादी

ऐश्वर्या राय महागठबंधन सरकार में मंत्री रहे चंद्रिका राय की बेटी और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री दारोगा प्रसाद राय की पोती हैं. चंद्रिका राय बिहार के सारन जिले के परसा से आरजेडी के विधायक हैं.

खबर है कि आज लालू यादव और तेज प्रताप से मुलाकात हो सकती है. पूर्व केंद्रीय मंत्री लालू यादव चारा घोटाला मामले में जेल में बंद हैं. फिलहाल वह रांची के रिम्स अस्पताल में इलाज करा रहे हैं.