January 17, 2022 12:42 am
featured यूपी

सपा द्वारा पिछड़ों की बात करना केवल ढोंग : केशव मौर्य

सपा द्वारा पिछड़ों की बात करना केवल ढोंग

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि किसी को श्रद्धांजलि देने में भी कोई तुष्टीकरण की राजनीति देखता है तो इसे समाज देखता है। उन्होंने कहा कि यह सब समाज समझता है और समाज इस पर जरूर नजर रखेगा कि ये कौन लोग हैं जो कहते हैं कि हम रामलला के मंदिर जाएंगे, लेकिन एक रामभक्त को श्रद्धांजलि देने में संकोच होता है।

केशव मौर्य ने कहा कि उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय कल्याण सिंह को अंतिम विदा देने के लिए नहीं आकर पिछड़े वर्ग की बात करने का नैतिक अधिकार खो दिया। सपा द्वारा पिछड़ा वर्ग की बात करना केवल ढोंग है। अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय कल्याण सिंह को अंतिम विदा देने के लिए नहीं आकर पिछड़े वर्ग की बात करने का नैतिक अधिकार आपने खो दिया है।
उत्तर प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि अखिलेश ने अपने निवास से महज एक किलोमीटर दूर माल एवेन्यू जाकर स्व. कल्याण सिंह को श्रद्धांजलि देने नहीं आ सके। स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि अखिलेश को मुस्लिम वोट बैंक के मोह ने पिछड़ों के सबसे बड़े नेता को श्रद्धांजलि देने से रोक लिया।

राजनैतिक शिष्टाचार निभाना भी भूल गये अखिलेश – संजय चौधरी
भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता संजय चौधरी ने कहा कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने राजनैतिक शिष्टाचार निभाना भी भूल गये। उन्होंने कहा कि अखिलेश विपक्ष में होने पर पिछड़ों की बात करती है। सरकार में होने पर जाति की बात करते हंै और लाभ की बात आती है तो परिवार आ जाता है और जब पद की बात आती है तो परिवार को भी किनारे कर देती है।
उन्होंने कहा भारत की राजनीति का मूल तत्व त्याग है। हमारे यहां त्याग पूर्वक उपभोग की बात कही गयी है। हमारे यहां त्यागी पुरूष को सत्ता से बड़ा माना गया है। भगवान राम, महात्मा बुद्ध, या महात्मा गांधी हों त्याग के कारण ही पूजनीय हैं।

Related posts

बीएल संतोष बोले- बंगाल की गलतियों से लें सबक, यूपी में जीत का दिया फॉर्मूला

sushil kumar

जमीता ने इमाम बन कर की नमाज की अगुवाई

piyush shukla

तमिलनाडू: तूतीकोरिन में प्रदर्शन जारी, स्टरलाइट कॉपर प्लांट बंद होने से 32500 की नौकरियां खतरे में

rituraj