लखनऊ: कांवड़ यात्रा रद्द करने के बाद यूपी सरकार ने SC में रखा अपना पक्ष

लखनऊ: कोरोना की दूसरी लहर से उबरने बाद यूपी सरकार ने कांवड़ यात्रा को इजाजत दे दी है। और उत्तराखंड सरकार ने कांवड़ यात्रा पर रोक लगा दी थी। यूपी सरकार और केंद्र सरकार के फैसले पर सुप्रीम कोर्ट ने स्वत संज्ञान लिया है और कांवड़ यात्रा की इजाजत देने पर जवाब मांगा है। शीर्ष अदालत ने सरकार को नोटिस देकर जवाब मांगा है। मामले की सुनवाई कोर्ट में 16 जुलाई को की जाएगी।

सुप्रीम कोर्ट ने लिया संज्ञान

सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को मामले में नोटिस जारी कर जवाब दाखिल करने को कहा है।सुप्रीम कोर्ट इस मामले पर सुनवाई 16 जुलाई को करेगा। सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस फली नरीमन की बेंच ने मामले पर स्वतः संज्ञान लिया है। कल ही उत्तराखंड सरकार ने कोरोना आपदा को देखते हुए कावड़ यात्रा नहीं आयोजित करने का फैसला लिया है। जबकि उत्तरप्रदेश सरकार कांवड़ यात्रा आयोजित करा रही है।

16 जुलाई को होगी अगली सुनवाई

जस्टिस RF नरीमन ने सुनवाई करते हुए कहा कोरोना काल में यूपी सरकार कांवड़ यात्रा कैसे करा सकती है। 25 जुलाई से कांवड़ यात्रा शुरू हो रही है। ऐसे में कोर्ट ने सरकार से जवाब मांगा है। मामले की अगली सुनवाई 16 जुलाई को होगी।

नए मंत्रियों संग पीएम मोदी का फिर मंथन, कई अहम मुद्दों पर चर्चा संभव

Previous article

सावधान! फेसबुक के बाद अब व्हाट्सएप हैकिंग कर रुपए ऐंठ रहे हैं साइबर अपराधी

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured