garmi 1 ये घरेलू नुस्खे अपनाने से गर्मियों में नहीं होगी डिहाइड्रेशन की समस्या

निर्जलीकरण जिसे हम अंग्रेजी में डिहाइड्रेशन कहते हैं। ये तब होता है जब शरीर से निकलने वाले पानी की मात्रा दिनभर में ली जाने वाली पानी की मात्रा से अधिक हो जाती है। गर्मी का मौसम शुरू हो चुका है, और तापमान बढ़ने के साथ-साथ लू का खतरा ज्यादा हो जाता है। जिस कारण स्वास्थ्य परेशानियां बढ़ जाती हैं।

मोटापा

डाइट का रखें विशेष रूप से ध्यान

गर्मियों में डाइट का विशेष रूप से ध्यान रखाना चाहिए। कड़ी धूप से बचने और खुद को ठंडा रखने के लिए पानी और ठंडे ड्रिंक्स का इस्तेमाल करना चाहिए। लिहाजा ये जानना जरूरी है कि गर्मी की मार से हमारे शरीर का कैसे बचाव हो और हम हाइड्रेटेड रहे। चलिए जानते हैं कुछ घरेलू टिप्स…

WHATERMELON JUICE ये घरेलू नुस्खे अपनाने से गर्मियों में नहीं होगी डिहाइड्रेशन की समस्या

तरल पदार्थ का सेवन जरूरी

हाइड्रेटेड रहने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है कि हम गर्मियों में रोजाना कम से कम 3 से 4 लीटर पानी पीये। साथ ही छाछ, चावल का पानी, नींबू या आम का रस और दाल का सूप पीने से भी लाभ होगा।

juice ये घरेलू नुस्खे अपनाने से गर्मियों में नहीं होगी डिहाइड्रेशन की समस्या

सत्तू का शर्बत फायदेमंद

आम तौर पर लोग सत्तू का शर्बत कम पीते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि उसका स्वास्थ्य पर बहुत अच्छा असर होता है खासकर गर्मी में। सत्तु का शर्बत ऊर्जा का बेहतरीन स्रोत होने के साथ-साथ स्टेमिना को बढ़ाने वाला ड्रिंक होता है। जिसके इस्तेमाल से शरीर का तापमान स्थिर रहता है और पाचन तंत्र अच्छा रहता है।

sattu ये घरेलू नुस्खे अपनाने से गर्मियों में नहीं होगी डिहाइड्रेशन की समस्या

रसीले फलों का करें इस्तेमाल

गर्मी को मात देने के लिए हमें खाने में खीरा, ककड़ी, तरबूज, खरबूज जैसे रसीले फलों का इस्तेमाल अधिक करना चाहिए। चूंकि ये फल तासीर में ठंडे होते हैं और सेहत के लिए फायदेमंद।

fruits ये घरेलू नुस्खे अपनाने से गर्मियों में नहीं होगी डिहाइड्रेशन की समस्या

दरअसल गर्मी में शरीर में पानी की कमी से मिनरल्स और विटामिन्स का लेवल कम हो जाता है। जिस वजह से चक्कर और कमजोरी का एहसास हो सकता है। इसलिए जरूरी है कि हम अपनी डाइट में ज्यादा पानी की मात्रा वाले फूड का इस्तेमाल करें। सबसे अच्छा है कि हम नींबू-पानी, शर्बत, छाछ, दही या नारियल पानी का ज्यादा से ज्यादा सेवन करें।

DELHI: स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना की तीसरी वेव पर जताई चिंता, कहा डेल्टा प्लस वेरिएंट के 22 मामले मिलना चिंता का विषय

Previous article

WTC FINAL:भारतीय गेंदबाजों ने पांचवे दिन पलटा पासा, 249 रन पर किवी टीम ALL OUT, अब इंडियन बल्लेबाजों को दिखाना होगा दम

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured