चौरी चौरा शताब्दी महोत्सव के चलते महिला सेवा सदन इंटर कॉलेज की छात्राओं ने निकाली पदयात्रा

प्रयागराज: चौरी चौरा शताब्दी महोत्सव पूरे प्रदेश में मनाया जा रहा है, इसकी शुरुआत प्रधानमंत्री मोदी ने डिजिटल तरीके से की थी। इसी क्रम में प्रयागराज स्थित महिला सेवा सदन इंटर कॉलेज की छात्राओं ने पदयात्रा निकाली।

शहीदों के सम्मान में निकली यात्रा

यह पदयात्रा शहीदों के सम्मान में निकाली गई थी। जिसमें कॉलेज की छात्रों के साथ-साथ अध्यापक भी शामिल हुए, इस पदयात्रा का लक्ष्य समाज में शहीदों के प्रति सम्मान और आदर को बढ़ाना है। इसके साथ ही चौरी चौरा की महत्ता को भी जाहिर करना है। संगीत की ध्वनि के साथ कतार बद्ध होकर सभी छात्राओं ने पदयात्रा निकाली, उनके हाथों में बैनर भी थे।

वर्षभर होगा आयोजन

इस महोत्सव की शुरुआत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति में हुई। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल भी वर्चुअली इस दौरान उपस्थित रहीं। चौरी चौरा घटना होने के 100 साल पूरे होने पर गोरखपुर सहित पूरे प्रदेश में यह आयोजन अगले 1 वर्ष तक किया जाएगा।

4 फरवरी 1922 को हुई थी घटना

गोरखपुर से सटे चौरी चौरा के भोपा बाजार में यह घटना हुई। जहां 4 फरवरी 1922 को सत्याग्रह आक्रोशित हो गए थे, एक सिपाही ने गांधी टोपी को पैरों तले रौंद दिया। उसके बाद जमकर लोगों का गुस्सा देखने को मिला।

गुस्साए क्रांतिकारियों ने पुलिस चौकी को भी आग के हवाले कर दिया। जिसमें 23 पुलिसकर्मी जल गए, इस घटना में 19 लोगों को बाद में फांसी की सजा हुई थी। बच्चों के द्वारा यह पदयात्रा निकालकर सभी को देशभक्ति का संदेश दिया गया। चौरी चौरा जैसी ऐतिहासिक घटनाएं लोग याद रखें, यह काफी जरूरी है।

इसीलिए उत्तर प्रदेश सरकार ने वर्षभर अलग-अलग कार्यक्रमों के माध्यम से शताब्दी महोत्सव मनाने का निर्णय लिया है। प्रधानमंत्री मोदी ने भी इसके लिए सभी की सराहना की।

UP के मकान मालिक और किराएदारों के लिए बड़ी खबर, आएगा नया कानून

Previous article

वीडियो: बालाकोट एयर स्ट्राइक के दो साल, वायुसेना को सलाम

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured