Breaking News featured भारत खबर विशेष यूपी

शाहजहांपुर में छात्रा को ज़िंदा जलाकर फेंका, पिता ने लगाए तीन युवको पर जलाने के आरोप

ss 2 शाहजहांपुर में छात्रा को ज़िंदा जलाकर फेंका, पिता ने लगाए तीन युवको पर जलाने के आरोप

शाहजहांपुर – वही एक खबर यूपी के शाहजहांपुर जिले से आ रही है। यहाँ एक छात्रा संदिग्ध हालात में हाईवे पर जली पाई गई है। बता दे कि छात्रा स्वामी चिन्मयानंद के एसएस कॉलेज में पढ़ती है। फिलहाल, छात्रा का लखनऊ के सिविल अस्पताल में इलाज चल रहा है। डॉक्टरों के मुताबिक छात्रा की हालत गंभीर है। लड़की के पिता ने तीन युवको पर उसे जलाने का आरोप लगाया है।

आस पास के लोगो ने बचाया और पुलिस को दी सूचना –
बताया जा रहा है आस पास के लोग सूचना मिलते ही घटनास्थल की और दौड़े तथा लड़की को बचाया। साथ उन्होंने उसे लखनऊ के सिविल अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवाया। छात्रा के पिता का कहना है कि वो रोज बेटी को खुद कॉलेज लाते और लेने जाते है। सोमवार सुबह करीब 11 बजे उन्होंने छात्रा को कॉलेज में छोड़ा था। इसके बाद वो बाहर ही इधर-उधर टहलते हुए उसका इंतजार करने लगे। जब दोपहर करीब 3 बजे तक छात्रा नहीं आई तो छात्रा के पिता काफी परेशान हो गए और किसी अज्ञात फ़ोन से को शाम करीब 5 बजे के उन्हें फोन आया और बताया कि हाईवे पर उनकी बेटी जली हुई अवस्था में मिली है। जिसके चलते वो तुरंत मौके पर पहुंचे।

मामले पर क्या कहना है एसपी एस आनंद का –
मामला सामने आने के बाद पुलिस ने छात्रा को अस्पताल में भर्ती कराया। अस्पताल से छात्रा को बेहतर उपचार के लिए लखनऊ के सिविल अस्पताल रेफर कर दिया गया था। छात्रा के पिता का कहना है कि उनकी बेटी अपनी सहेली के साथ कॉलेज के सामने ही एक कॉम्प्लेक्स में फोटोकॉपी कराने गई थी। वहां सहेली के तीन दोस्त मिले और उसे साथ ले गए। इसके बाद क्या हुआ? छात्रा इस बारे में कोई जानकारी नहीं दे पा रही है। एसपी एस आनंद के अनुसार छात्रा कॉलेज से अकेले बाहर जाती हुई नजर आई है। उसकी सहेली का कहना है कि वो छात्रा के साथ थी लेकिन घटना के बारे में उसे कोई जानकारी नहीं है। पुलिस छात्रा की सहेली के तीन संदिग्ध परिचितों को पहचान कर उनकी तलाश करने की कोशिश कर रही है। साथ ही ये भी बता दे कि शाहजहांपुर का एसएस कॉलेज पूर्व केंद्रीय गृह राज्य मंत्री स्वामी चिन्मयानंद का है। इससे पहले भी कॉलेज विवादों में घिरा रहा है। वर्ष 2019 में कॉलेज की ही एक विधि छात्रा ने स्वामी चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाया था। उसकी तरफ से एफआईआर भी दर्ज कराई गई थी। बाद में छात्रा पर भी स्वामी चिन्मयानंद को ब्लैकमेल करने के आरोप में केस दर्ज कराया गया था।

 

 

Related posts

कोरोना टीकाकरण में यूपी नंबर वन, महाराष्ट्र को पीछे छोड़ा

Shailendra Singh

किम जोंग की धमकी, SOUTH KOREA ने अगर पहुंचाया नुकसान, तो होगा NUCLEAR ATTACK

Rahul

पीएम नरेंद्र मोदी का कांग्रेस के घोषणापत्र पर वार, ‘कांग्रेस का हाथ, देशद्रोहियों के साथ’

bharatkhabar