WhatsApp Image 2021 05 17 at 7.43.47 PM कोरोना की रोकथाम के लिए नगर विकास मंत्री ने बनाई रणनीति
  • घर-घर स्क्रीनिंग करेगी मोहल्ला निगरानी समिति, होम आइसोलेशन वालों को बांटेंगी मेडिसिन किट : नगर विकास मंत्री
  • सभी आधिशाषी अधिकारी एवं आशा बहु सीएचसी पीएचसी के इंचार्ज के संपर्क में रहे : आशुतोष टंडन

लखनऊ। नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने सोमवार को कोविड-19 के दृष्टिगत प्रदेश के प्रयागराज, लखनऊ, देवीपाटन मंडल के 14 जनपदों (प्रयागराज, फ़तेहपुर, कौशाम्बी, प्रतापगढ़, लखनऊ, हरदोई, रायबरेली, सीतापुर, लखीमपुर, उन्नाव, गोण्डा, बहराइच, बलरामपुर व श्रावस्ती) की 92 नगर पंचायतों के अध्यक्ष एवं अधिशासी अधिकारों के साथ वर्चुअल समीक्षा बैठक की।

जिसमें मंत्री आशुतोष टंडन ने कहा कि मोहल्ला निगरानी समिति के सदस्य घर-घर जाकर लोगों की स्क्रीनिंग करेंगे। कहीं भी संक्रमित मिलने पर होम आइसोलेशन वाले मरीजों को समय से मेडिसिन किट भी निगरानी समिति द्वारा मुहैया करवाई जाएगी।

निगरानी समिति के सभी अधिशासी अधिकारी एवं आशा बहु सीएचसी पीएचसी इंचार्ज के संपर्क में रहें और भरपूर सहयोग दें। वर्चुअल बैठक में सफाई सैनिटाइजेश एवं निगरानी समितियों को लेकर विस्तार से चर्चा की गई।

वर्चुअल बैठक में अपर मुख्य सचिव नगर विकास विभाग रजनीश दुबे, नगरीय निकाय निदेशालय की निदेशक शकुन्तला गौतम, विशेष सचिव नगर विकास विभाग इंद्रमणि त्रिपाठी समेत तीन मण्डल की 92 नगर पंचायतों के अध्यक्ष एवं आधिशासी अधिकारी (ईओ) जुड़े रहे।

होम आइसोलेशन के मरीजों को न हो मेडिसिन किट की किल्लत: आशुतोष टंडन 

मंत्री ने कहा कि प्रदेश भर में मोहल्ला निगरानी समितियों द्वारा लोगों की घर-घर जाकर स्क्रीनिंग की जायेगी। कहीं भी संक्रमित मिलने होम आइसोलेशन वालों को समय से मेडिसिन किट भी निगरानी समिति द्वारा मुहैया करवाई जाएगी।

साथ ही समय समय पर निगरानी समितियों द्वारा संक्रमितों की जानकारी ली जाएगी। इसके अलावा निगरानी समिति के अधिकारी मेडिसिन किट को लेकर लगातार पीएचसी व सीएचसी के संपर्क में रहेंगे।

जिससे होम आइसोलेशन के मरीजों को मेडिसिन किट का अभाव न हो सके।  निगरानी समिति नगर निगम, नगर आयुक्त और सभी अधिशासी अधिकारी, सभी सीएचसी पीएचसी इंचार्ज व आशा बहु के संपर्क में रहेंगे और उनका भरपूर सहयोग देंगे।

मेडिसिन किट व स्क्रीनिंग की करनी होगी प्रतिदिन रिपोर्टिंगः रजनीश दुबे

अपर मुख्य सचिव नगर विकास विभाग रजनीश दुबे ने निर्देश दिए कि मोहल्ला निगरानी समिति के द्वारा कितने लोगों की स्क्रीनिंग की गई है। समिति द्वारा कितने संक्रमित चिह्नित हुए, कितनी मेडिसिन किट बांटी गई हैं।

इसकी प्रतिदिन की रिपोर्ट बनाकर नगर विकास निदेशालय को भेजनी होगी। जिन नगर पंचायतों में अधिक कंटेनमेंट जोन है उन नगर पंचायत के अध्यक्ष एवं अधिशासी अधिकारी विशेष तौर पर ध्यान दें। साथ ही कूड़े का निस्तारण करने की रिपोर्ट भी प्रतिदिन मुहैया करवाते रहें।

नगर पंचायतों के अध्यक्ष एवं अधिशाषी अधिकारियों संग मंत्री ने विस्तार से की चर्चा

मंत्री ने खागा (फतेहपुर) की अध्यक्ष गीता सिंह, रानीगंज (प्रतापगढ़) की अध्यक्ष मीरा गुप्ता, बक्शी का तालाब (लखनऊ) के अध्यक्ष अरूण सिंह, महराजगंज (रायबरेली) की अध्यक्ष सरला साहू, बेनीगंज (हरदोई) की अध्यक्ष सुशीला वैश्य, महोली (सीतापुर) की अध्यक्ष सरिता गुप्ता, सिंघाई भिण्डौरा (लखीमपुर) के अध्यक्ष उत्तम कुमार मिश्रा, नवाबगंज (उन्नाव) के अध्यक्ष दिलीप लश्करी, मनकापुर (गोण्डा) के अध्यक्ष प्रदीप गुप्ता, तुलसीपुर (बलरामपुर) नगर पंचायत की अध्यक्ष कहकशाँ फिरोज समेत सभी 10 अध्यक्षों से नगर पंचायत में हो रहे कार्यों पर विस्तार से चर्चा की।

कोरोना की तीसरी लहर से पहले यूपी सरकार अलर्ट, सीएम योगी ने बताया प्‍लान

Previous article

सचिन तेंदुलकर का बड़ा बयान, तनाव में गुजारा करियर का एक दशक

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.