September 26, 2021 12:04 am
Breaking News जम्मू - कश्मीर

कुपवाड़ा में हिजबुल मुजाहिद्दीन के टेरर मॉडल का हुआ खुलासा

कुपवाड़ा

जम्मू कश्मीर पुलिस को एक बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने कुपवाड़ा में आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन के टेरर मॉडल का भंडाफोड़ किया है । जिसमें 5 आतंकियों को गिरफ्तार किया गया है । इन सभी आतंकवादियों को कुपवाड़ा जिले से गिरफ्तार किया गया है । पुलिस ने बताया है कि सूचना के आधार पर उसने देर रात एक संयुक्त अभियान चलाया जिसमें हत्यारों की सप्लाई की जानकारी पुलिस को दी गई थी । जिस पर जम्मू कश्मीर पुलिस ने तुरंत एक्शन लिया। इस अभियान में टीमों को लगा दिया इस ऑपरेशन के जरिए हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकी संगठन के आतंकियों को हिरासत में लेकर नापाक इरादों को सफलतापूर्वक समाप्त कर दिया गया।

कुपवाड़ा में आतंकियों को किया गया गिरफ्तार

इस अभियान के दौरान पांच आतंकियों को गिरफ्तार किया गया है जिसमें मुख्य रूप से लालपोरा की अब्दुल्ला बट के पुत्र परवेज अहमद भट्ट उम्र 22 साल स्थानीय आतंकवादी को गिरफ्तार किया है तलाशी अभियान के दौरान उसके कब्जे से एक एके-47 राइफल और एक 9 mm की चाइनीस पिस्टल बरामद हुई है इकबाल मुजाहिदीन के आतंकियों के लिए हत्यारों की तस्करी में शामिल गिरफ्तार आतंकवादी के सहयोगियों के नाम इस प्रकार है अल्ताफ अहमद मीर (35), मोहम्मद (35), नजीमुद्दीन गुज्जर (44) और अब्दुल कयूम (29) है। बताया जा रहा है कि कुपवाड़ा के लालपुरा में तलाशी अभियान के दौरान हथियार और गोला बारूद बरामद किए गए हैं। इसमें आतंकियों से एके 47, पिस्टल, मैगजीन, व गोलियां बरामद की गयी है

पुलिस व सेना ने चलाया संयुक्त अभियान

सेना ने पुलिस से सूचना के आधार पर तलाशी अभियान चलाया था जिसके बाद इन सभी आतंकियों को गिरफ्तार किया गया है कश्मीर में आतंकी संगठन पहले से ही सक्रिय रहते हैं जो कश्मीर घाटी की शांति को खत्म करने की कोशिश करते रहते हैं कश्मीर घाटी में 370 हटने के बाद एक नए कश्मीर की स्थापना हुई है जिसके बाद आतंकी संगठन अपनी नापाक इरादों को अंजाम देने की कोशिश में लगे हुए हैं। जम्मू कश्मीर पुलिस और भारतीय सेना अलर्ट पर है। जो पहले ही किसी भी प्रकार की होने वाली गतिविधियों को भाप लेती है और फिर कार्रवाई करके आतंकियों के मंसूबों पर पानी फेरने का काम कर रही है। यह जम्मू कश्मीर पुलिस और भारतीय सेना का एक सफल अभियान रहा है। जिसमें उसने एक बड़े आतंकी संगठन को मदद देने वाले आतंकियों का पर्दाफाश कर उन्हें गिरफ्तार किया है। साथ ही उनसे हथियार व बारूद भी बरामद किए गए हैं। हाल के दिनों में उनकी तस्करी गतिविधियों के सभी विवरणों का पता लगाने के लिए आगे की जांच तकनीकी सबूतों के आधार पर चल रही है।

आतंकियों के मंसूबों पर फिरा पानी

आतंकवादी कमांडरों के साथ स्थापित संपर्क कोड नाम रेयाज और अमजद दोनों बांदीपोरा से हैं और वर्तमान में घाटी में सक्रिय आतंकवादियों को हथियारों की तस्करी और आपूर्ति के लिए सोनार लाह पैड पर डिटेक्ट कमांडरों के रूप में काम कर रहे हैं। जम्मू कश्मीर में होने वाली इस प्रकार की गतिवधि को रोकने के लिए अलर्ट किया जाता है। इस प्रकार के अलर्ट के चलते आतंकियों के मंसूबों पर पानी फेर दिया जाता है। भारत को अपना निशाना बनाने की कोशिश आतंकी संगठनों की तरफ से की जाती रही है। लेकिन भारतीय सेना आतंकियों को लेकर हमेशा सचेत रहती है। जिसके चलते संयुक्त ऑपरेशन कर आतंकियों को गिरफ्तार किया गया है और यह एक बड़ी कामयाबी रही है। इस प्रकार से आगे भी सर्च ऑपरेशन जारी रहेगा और इनके द्वारा किये जा रहे इस प्रकार की गतिवधियों की तह तक जाया जायेगा। इनके आगे होने वाले प्लान की जानकारी को भी जुटाया जायेगा। जिससे इनके व इनके संगठन द्वारा आगे होने वाले सभी प्लान को पहले की खत्म किया जा सके और आतंकियों को मुँह तोड़ जवाब दिया जा सके ताकि आने वक्त में इस प्रकार की घटना अंजाम को दिया जा सके।

Related posts

उन्नाव कांड: CBI को दो हफ्तों का और समय मिला, वकील को पांच लाख देने का आदेश

bharatkhabar

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने एनआरसी से जुड़े मुद्दों की समीक्षा की

bharatkhabar

यूपी: 6 पूर्व मुख्यमंत्रियों को झटका, खाली करने पड़ेंगे सरकारी बंगले

bharatkhabar