stf 3 एसटीएफ ने 25000 के इनामी लुटेरे को किया गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश एसटीएफ को आज बड़ी सफलता हाथ लगी है। इसी कड़ी में महाराष्ट्र के ठाणे से शातिर अपराधी को उत्तर प्रदेश के एसटीएफ के द्वारा गिरफ्तार किया गया है। इस अपराधी के ऊपर ₹25000 का इनाम था। जिसे महाराष्ट्र से गिरफ्तार किया गया है।

आजमगढ़ का रहने वाला था इनामी बदमाश

आजमगढ़ का रहने वाला इनामी बदमाश को यूपी एसटीएफ के द्वारा मुंबई के ठाणे से गिरफ्तार किया गया है। इस बदमाश पर ₹25000 का इनाम रखा गया था। जिसकी तलाश बीते कई दिनों से यूपी एसटीएफ कर रही थी। मिली जानकारी के अनुसार थाना फूलपुर जनपद आजमगढ़ के एक मुकदमे में वांछित ₹25000 का इनामी अपराधी असवद मुंबई में रह रहा था। इस सूचना पर एसटीएस के उप निरीक्षक संतोष कुमार सिंह के नेतृत्व में इस पूरे ऑपरेशन को अंजाम दिया गया। एसटीएफ टीम मुंबई पहुंच कर थाना नौपाडा अपराध शाखा unit-1 थाने महाराष्ट्र पुलिस के सहयोग से वांछित अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया है। जिसके पास दो मोबाइल फोन, एक डीएल ,1 एटीएम कार्ड और ₹10500 की बरामदगी हुई है। अपराधी के ऊपर आजमगढ़ के फूलपुर थाने में कई मुकदमे दर्ज थे।

आज़मगढ़ मे की थी लूट

दरअसल अपराधी से पूछताछ में बताया गया कि बचपन से अपने पिता के साथ महाराष्ट्र में रहता था। वर्ष 2008 में किसी बात को लेकर के कुछ लोगों से मारपीट हो गई थी। इस संबंध में उसके विरुद्ध अभियोग पंजीकृत हो गया था। उसने विदेश जाने के लिए पासपोर्ट का आवेदन किया। किंतु अभियोग पंजीकृत होने के कारण महाराष्ट्र से पासपोर्ट नहीं बना पाया। तो यह अपने पैतृक गांव फरिहा जनपद आजमगढ़ आकर पासपोर्ट बनवाने का प्रयास करने लगा, इसी दौरान उसकी मुलाकात उमर से हो गई । उमर ने इससे बताया कि एक व्यक्ति हवाले का काफी पैसा लेकर सरायमीरा से कस्बा फूलपुर थाना क्षेत्र फूलपुर जनपद आजमगढ़ आने वाला है। जिससे पैसे लूटना है, इस बात पर यह अपराधी तैयार हो गया और उमर व उसके साथियों के साथ मिलकर कस्बा फूलपुर में उमर द्वारा लाए गए चार पहिया वाहन में बैठकर उस व्यक्ति का इंतजार करने लगा। जैसे ही वह व्यक्ति मोटरसाइकिल से आया, तो यह लोग उसे टक्कर मारकर गिरा दिए और पैसे से भरा बैग छीन कर भाग गए। जिससे उमर ने ₹155000 इस अपराधी को दिए। यह पैसा लेकर यह वापस मुंबई आ गया था। मुंबई आकर उसने एक झोला गैंग बना लिया था। इसके सदस्यों द्वारा रुपए को ले जाने वाले व्यक्तियों की मुखबिरी कर उनके बैग को छीन कर फरार हो जाते थे। साथ ही यह भी बताया गया कि मुंबई में रहकर स्मैक की सप्लाई का काम भी करता था।

उत्तराखंड में अनिल गोयल को बड़ी जिम्मेदारी, मिला राज्यमंत्री का दर्जा

Previous article

निषाद समुदाय पर मेहरबान कांग्रेस, प्रदेश अध्यक्ष ने सौंपे 10 लाख रुपये

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.