Breaking News featured बिहार राज्य

तेजस्वी ने राज्यपाल के समक्ष उठाया बिहार में कानून व्यवस्था का मुद्दा

rajypal तेजस्वी ने राज्यपाल के समक्ष उठाया बिहार में कानून व्यवस्था का मुद्दा

पटना। चारा घोटाला के तीसरे मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दे दिया है। वहीं अब से कुछ ही देर में इस मामले में लालू के खिलाफ सजा का ऐलान किया जाएगा। इसी के चलते आरजेडी के सभी नेता रांची में मौजूद हैं। वहीं इसी बीच लालू के छोटे बेट और पर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक से मिलने पहुंचे। राज्यपाल से मिलने के बाद तेजस्वी ने बिगड़ती कानून व्यवस्था और दलितों के खिलाफ हो रहे अत्यचार को लेकर बिहार सरकार की विफलता की बात राज्यपाल के सामने रखी।  rajypal तेजस्वी ने राज्यपाल के समक्ष उठाया बिहार में कानून व्यवस्था का मुद्दा

राज्यपाल से मिलने के बाद तेजस्वी यादव ने कहा कि बीजेपी और नीतीश कुमार ने लालू जी को केस में फंसाया है। उन्होंने कहा कि बिहार का एक-एक आदमी कह रहा है कि लालू को जबरदस्ती फंसाया जा रहा है। तेजस्वी ने आरोप लगाया कि बीजेपी लोकसभा चुनाव के साथ बिहार में विधानसभा चुनाव कराने की भी तैयारी कर रही है,जिसके चलते आरएसएस के लोग बिहार आ रहे हैं और मोहन भागवत बिहार का दौरा कर रहे हैं। हो सकता है कि बीजेपी और नीतीश मिलकर दिसंबर 2018 में बिहार में विधानसभा चुनाव करवा दें, लेकिन बिहार की जनता सब देख रही है और जनता में आक्रोश है।

वहीं लालू पर आए फैसले को लेकर तेजस्वी ने कहा कि कोर्ट का फैसला सबको मानना होगा। हमारे पास विकल्प है। हम उच्च न्यायालय के पास जाएंगे। उन्होंने कहा कि सृजन घोटाला में सरकारी खजाने से 1800 करोड़ रूपये निकाले गए हैं, इसमें सीबीबीआई कार्रवाई करके सीएम नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम सुशील मोदी को आरोपी बनाती है। सृजन घोटाला इन्हीं के कार्यकाल के दौरान हुआ। जो भी एनजीओ हैं सब नीतीश के कार्यकाल में बने और सरकार को लूटा। सृजन मामले में बीजेपी के कई नेताओं के नाम आ रहे हैं।

Related posts

1857 का संग्राम: आजादी की रखी नींव, जाने खास बातें

mohini kushwaha

एशिया कप में कोहली की गैर-मौजूदगी से टीम इंडिया पर पड़ेगा फर्क: इमाम उल हक

mahesh yadav

सीएम केजरीवाल ने दिल्ली में प्लाज्मा बैंक बनाने का एलान किया, डॉ. गुप्ता के परिवार को दिए जाएंगे 1 करोड़ रूपये

Rani Naqvi