up startup 2

लखनऊ। अगर आप कुछ नया करने की सोच रहे हैं तो सरकार आपके साथ हैं। आपको जरूरत है तो बस एक आइडिया की जो आपकी जिंदगी बदल देगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार युवाओं को आगे बढ़ाने के लिए बहुत कुछ कर रही है। युवाओं को नौकरी ढूंढने की बजाय नौकरी देने वाला बनाने के लिए सरकार प्रदेश में स्टार्टअप को बढ़ावा दे रही है। सरकार ने स्टार्टअप नीति में तमाम बढ़े बदलाव किए हैं। जिससे युवाओं के लिए अपना कारोबार शुरू करना आसान हो सके।
up startup 1 यूपी आरंभ: कुछ नया करने की सोच रहे हैं तो सरकार है आपके साथ, इस तरह शुरू कर सकते हैं अपना स्टार्टअप
अगर आप कुछ नया करने की सोच रहे हैं तो सबसे पहले आपको एक आइडिया की जरूरत है। उसके बाद आपको सिलसिलेवार सात काम करने होंगे। आइए, उनके बारे में हम आपको बताते हैं।

सबसे पहले एक बेहतर आइडिया

किसी भी काम को शुरू करने के लिए पहली जरूररत है आइडिया। एक अच्छा आइडिया आपकी जिंदगी बदल सकता है। अगर आपको कोई आइडिया मिल जाए तो सबसे पहले उसकी छानबीन शुरू करें। पता करें कि कहीं पहले से कोई उस पर काम तो नहीं कर रहा है।

आइडिया के बाद तैयार करें बिजनेस प्लान

किसी भी आइडिया को सफल बनाने का तरीका है उसका बिजनेस प्लान बनाना। आप जिंदगी में कहीं भी बिना प्लानिंग के आगे बढ़ते हैं तो कामयाब नहीं हो सकते। सबसे अच्छा तरीका है कि आप एक डायरी बना लें उसमें हर उस बात को नोट करते हैं जो आपके बिजनेस में आगे काम आने वाली है। इसके लिए आप किसी एक्सपर्ट की राय भी ले सकते हैं।

बिजनेस के लिए चुनें एक बेहतर नाम

नाम और ब्रांड के लिए बिजनेस हाउस खूब समय और पैसा खर्च करते हैं। इसलिए अपना स्टार्टअप का नाम चुनते वक्त कुछ समय जरूर खर्च करें। नाम ऐसा हो जो जल्दी लोगों की जुबान पर चढ़ जाए। ऐसा करने से आपके ब्रांड को मशहूर होने में ज्यादा वक्त नहीं लगेगा।

बिजनेस मॉडल तैयार करें

सबसे अहम चीज है स्टार्टअप का बिजनेस मॉडल। यह तय करना होगा कि आपका स्टार्टअप कौन-कौन से काम करेगा। आपको लोगों को कौन सी सर्विस देनी है। इससे कितने लोगों को फायदा मिलेगा। बाजार से आपको कितना रिटर्न कब और कैसे मिलेगा। इस पर मंथन करना बेहद जरूरी है।

बिजनेस के लिए खोजें एक बेहतर को-फाउंडर

किसी भी बिजनेस को अकेले दम पर ब्रांड बनाने का काम थोड़ा सा मुश्किल है। ऐसे में बेहतर यह है कि आप अपने बिजनेस के लिए एक को-फाउंडर खोजें। यह काम स्टार्टअप शुरू करने से पहले ही कर लें तो बेहतर है। और हां, नियम कायदों को कायदे से कागज पर उतार लें, जिससे कल के दिन पार्टनरशिप में कोई विवाद न हो।

बिजनेस के लिए बाजार तैयार करना

किसी भी बिजनेस को शुरू करने से पहले मार्केट का हाल जरूर जान लें। मार्केट रिसर्च से आपको आईडिया हो जाएगा कि आपका प्रोडक्ट कितना चल सकता है कितना नहीं। मार्केट में आपको किन लोगों से चुनौती मिलने वाली है। इसकी जानकारी भी आपको मार्केट रिसर्च से ही हो सकती है। साथ ही आपको प्रोडक्ट की मार्केट में डिमांड है भी या नही इसकी जानकारी भी जुटा लेना जरूरी है।

पूरी तैयारी के बाद रजिस्टर कराएं अपना स्टार्टअप

बिजनेस की पूरी तैयारी होने के बाद अपना स्टार्टअप रजिस्टर्ड कराएं। इस काम के लिए आप किसी एक्सपर्ट या एडवाजइजर की मदद भी ले सकते हैं। स्टार्टअप रजिस्टर होने के बाद आपको सरकार से मदद भी मिल सकती है। इससे आपको अपने बिजनेस का विस्तार करने में मदद होगी।

कुरुक्षेत्र मे एक छात्रा के साथ किया सामूहिक दुष्कर्म, मामले में अब तक एक गिरफ्तारी

Previous article

बाराबंकी किसान पंचायत में शामिल हो रहे नरेश टिकैत, अवध पर बीकेयू की नजर

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.