September 18, 2021 1:25 pm
featured यूपी

लखनऊ: राज्यपाल से मिलने पहुंचा सपा का डेलिगेशन, इन मुद्दों पर सौंपा ज्ञापन

लखनऊ: राज्यपाल से मिलने पहुंचा सपा का डेलिगेशन, इन मुद्दों पर सौंपा ज्ञापन

लखनऊ: समाजवादी पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को राजभवन पहुंचा। इस प्रतिनिधिमंडल में सपा के वरिष्ठ नेता अहमद हसन, राम गोविंद चौधरी और राजेंद्र चौधरी मौजूद थे। तीनों से ही राज्यपाल से मिलकर एक ज्ञापन सौंपा।

क्या है ज्ञापन में

पंचायत चुनाव और ब्लॉक प्रमुख चुनाव में धांधली का आरोप लगाने वाली समाजवादी पार्टी ने अपने ज्ञापन में भाजपा की मनमानी, आज़म खान पर लगे मुकदमे और लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ यानी मीडिया हाउस पर हुई छापे मारी जैसे मुद्दों को शामिल किया था। सपाइयों का कहना है कि इस सरकार में लोकतंत्र की हत्या की गई है। हमारे नेता व कार्यकर्ताओं पर झूठे मुकदमे लगाए गए हैं। आज़म खान इसका उदाहरण हैं। वहीं इस सरकार में मीडिया को भी बोलने की आज़ादी नहीं है।

लोकतंत्र की धज्जियां उड़ा रही ये सरकार

राज्यपाल से मिलने के बाद बाहर आये सपा नेताओं ने मीडिया से बातचीत की। उन्होंने कहा कि ब्लॉक प्रमुख चुनाव में जिस तरह से भाजपा के लोगों ने धांधली की वे निंधीय है। जब भाजपा के लोगों का मनमाना रूप समाचार के जरिये जनता तक पहुंचा तो सरकार में बैठे लोगों के हाथ पांव फूल गए। इसी का नतीजा है मीडिया के प्रतिष्ठित संस्थानो पर छापे मारी की जा रही है। विपक्ष के बोलने और भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। बोलने पर विपक्षी पार्टी के नेताओं पर मुकदमे लिखे जा रहे हैं।

आज़म खान को फंसाया जा रहा : अहमद हसन

वहीं समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद हसन ने कहा है कि ये सरकार तानाशाही पर उतारू है। सरकार ने आज़म खान पर झूठे मुकदमे लगाए हैं। उन्हें निरंतर परेशान किया जा रहा। इस सरकार ने लोकतंत्र का मज़ाक बना कर रख दिया है। किसी को भी इनके खिलाफ बोलने की आज़ादी नहीं है। विपक्ष के नेताओं पर तो मुकदमे लगाए जा रहे थे अब मीडिया संस्थानों पर भी छापे डलवाये जा रहे हैं। अपने अधिकारों का गलत इस्तेमाल कर रही है सरकार।

Related posts

बिहार में तैयार हुई नीतीश की नई कैबिनेट, 26 मंत्रियों ने ली शपथ

Pradeep sharma

ARIMT कालेज के निदेशक माेहित यादव ने दिया अचीवर अवार्ड

bharatkhabar

हिम्मत , ईमानदारी से करें काम , मैं साथ खड़ा हूं : पीएम मोदी

shipra saxena