जेएनयू जेएनयू में छात्रों पर कुछ नकाबपोशों ने किया लाठी-डंडे से हमला, मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चेबंदी

नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में छात्रों पर कुछ नकाबपोशों ने लाठी-डंडे से हमला किया गया. इस हमले में कई छात्रों के सिर फट गए हैं, वहीं कुछ फैकल्टी को भी गंभीर चोटें आई हैं. जिसके बाद दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं. डीसीपी देवेंद्र आर्या के मुताबिक हिंसा में 21 छात्रों के घायल होने की सूचना है. घायलों को उपचार के लिए एम्स ले जाया गया है.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा रविवार देर रात घायल छात्रों से मिलने एम्स पहुंचीं. मुलाकात के बाद उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘घायल छात्रों ने मुझे बताया कि गुंडे कैंपस के अंदर घुस गए और उनपर लाठी-डंडे और अन्य हथियारों से हमला किया. कइयों के हाथ-पैर तोड़ दिए गए, जबकि कुछेक छात्रों के सिर में चोट आईं है. एक छात्र ने बताया कि पुलिस ने कई बार उसके सिर पर लातों से हमला किया.’

उन्होंने लिखा, ‘यह बेहद घिनौना है कि सरकार अपने बच्चों के खिलाफ ही इस तरह के हमले और हिंसा को बढ़ावा दे रही है.’

वहीं राहुल गांधी ने घटना की निंदा करते हुए लिखा, ‘जेएनयू छात्रों और शिक्षकों पर नकाबपोश ठगों ने हमला किया है. जिसमें कई छात्र घायल हो गए हैं. यह काफी हैरान करने वाला है. देश पर राज करने वाले फासीवादी हमारे बहादुर छात्रों की आवाज से डर गए हैं. जेएनयू में हुई आज की हिंसा उसी डर को दर्शाती है.’

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घटना को लेकर उपराज्यपाल अनिल बैजल से बात की. बाद में उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर हैरानी जताते हुए लिखा, जेएनयू में हिंसा की बात सुनकर मैं बहुत हैरान हूं. छात्रों पर बुरी तरह से हमला किया गया है. पुलिस को तुरंत हिंसा रोक कर, शांति बहाल करनी चाहिए. अगर हमारे छात्र यूनिवर्सिटी के कैंपस में सुरक्षित नहीं रहेंगे, तो देश कैसे तरक्की करेगा?’

आप सांसद संजय सिंह ने लिखा, ‘जबसे अमित शाह देश के गृहमंत्री बने हैं देश की राजधानी दिल्ली गुंडागर्दी, हिंसा और अपराध का अड्डा बन गई है. कभी वकीलों पर हमला कभी छात्रों पर हमला इस गृहमंत्री को अपने पद पर रहने का हक़ नही अमित शाह इस्तीफ़ा दो.’

वहीं कांग्रेस नेता अजय माकन ने लिखा, ‘जेएनयू में हमले की खबर बेहद परेशान करने वाली है. आज लोकतंत्र के लिए काला दिन है.’

पूर्व गृह मंत्री और कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, ‘लाइव टीवी पर जो देख रहा हूं, भयानक और चौंकानेवाला है. नकाबपोश लोग जेएनयू हॉस्टल में घुस कर छात्रों पर हमला कर रहे हैं, पुलिस क्या कर रही है, कहां है पुलिस?’

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने घटना की निंदा करते हुए अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, ‘हमलोग जेएनयू के छात्रों और शिक्षकों के खिलाफ हिंसात्मक कार्रवाई की कठोर निंदा करते हैं. इस तरह की घटना को शब्दों में समझाया नहीं जा सकता है. लोकतंत्र के लिए यह बेहद शर्मनाक है.’

स्वराज अभियान के प्रमुख योगेंद्र यादव घटना के तुरंत बाद जेएनयू पहुंचे. योगेंद्र यादव ने कहा कि पुलिस प्रोटेक्शन के साथ कैंपस में गुंडे घुसे हैं. मैंने टीचर और स्टूडेंट्स से बात की है. कैंपस में दशहत का माहौल है. हॉस्टल के अंदर किसी छात्र का हाथ फ्रैक्चर है तो किसी का सिर फटा हुआ है. देश के प्रीमियर कैंपस में पहले वैचारिक लड़ाई होती थी, लेकिन अब फिजिकल हमला हो रहा है.

इस घटना के विरोध में कई छात्र पुलिस हेड क्वार्टर के बाहर जमा होकर विरोध प्रदर्शन करने लगे. जिसके बाद कई नेता भी मौके पर पहुंचे. सीपीएम नेता वृंदा करात ने जेएनयू हिंसा को लेकर बीजेपी सरकार और एबीवीपी पर जोरदार हमला बोला है. उन्होंने कहा कि एबीवीपी के गुंडों ने बाहरी लोगों के साथ मिलकर जेएनयू के स्टूडेंट्स को लोहे और रॉड से पीटा. मैं यहां छात्रों को समझाने आई हूं कि संघर्ष करो. पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद जेएनयू हिंसा में घायल छात्रों से मिलने एम्स पहुंचे, लेकिन जब उनको रोका गया, तो वो एम्स के बाहर धरने पर बैठ गए. हालांकि कुछ देर बाद वो धरने से उठ गए

वहीं सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी ने हिंसा पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि वो नकाबपोश कौन थे, जो जेएनयू में घुसे और छात्रों पर हमला किया. जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में छात्रों पर हुए हमले की जांच के लिए दिल्ली पुलिस ने एक स्पेशल टीम गठित की है. दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने इस जांच के आदेश दिए हैं. दिल्ली पुलिस की ज्वाइंट कमिश्नर शालिनी सिंह यह जांच करेंगी.

 

Rani Naqvi
Rani Naqvi is a Journalist and Working with www.bharatkhabar.com, She is dedicated to Digital Media and working for real journalism.

    राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने ब्रम्हलीन स्वामी हंस प्रकाश महाराज के 7वें निर्वाण दिवस श्रद्धांजलि सभा में उनको श्रद्धांजलि अर्पित की

    Previous article

    ईरान ने ट्रंप का सिर कलम करने पर रखा 80 मिलियन डॉलर का इनाम, सुलेमानी की मौत का लेंगे बदला

    Next article

    You may also like

    Comments

    Comments are closed.

    More in featured