September 19, 2021 12:08 pm
धर्म

2020 में पढ़ने वाले ये 6 ग्रहण दुनिया को तबाह कर देंगे, जानिए आपके ऊपर इसका क्या असर पड़ेगा ?

e 1 2020 में पढ़ने वाले ये 6 ग्रहण दुनिया को तबाह कर देंगे, जानिए आपके ऊपर इसका क्या असर पड़ेगा ?

कोरोना की मार झेल रहा पूरा विश्व अब इस तक माहामारी से निजात पाने के लिए कोई दवाई नहीं ढूंढ पाया ऊपर से ये ग्रहण दुनिया को तबाह करने के लिए तैयार बैठे हैं। अगर आप इस महामारी से बच भी गये तो शायद इन ग्रहणों के असर से नहीं बच पाएंगे। चलिअ आपको बताते हैं 2020 में पढ़ने वाले इन ग्रहणों के असर के बारे में जो पूरी दुनिया के लिए एक बुरा संकेत दे रहे है..

e 2 1 2020 में पढ़ने वाले ये 6 ग्रहण दुनिया को तबाह कर देंगे, जानिए आपके ऊपर इसका क्या असर पड़ेगा ?
इस साल जून के महीने में दो ग्रहण लगने वाले हैं। पहला चंद्र ग्रहण लगेगा और उसके बाद सूर्य ग्रहण। वहीं जुलाई में फिर चंद्र ग्रहण लगेगा। कुल मिलाकर इस साल 5 ग्रहण लगने वाले हैं। जिसमें से एक चंद्र ग्रहण 10 जनवरी 2020 को लग चुका है और पांच ग्रहण लगने वाले हैं। 5 जून को लगने वाला चंद्र ग्रहण भारत, यूरोप, अफ्रीक, एशिया और ऑस्ट्रेलिया में दिखाई देगा, वहीं 21 जून को लगने वाला सूर्य ग्रहण भारत, दक्षिण पूर्व यूरोप और एशिया में दिखाई देगा।
देश-दुनिया में मच रही तबाही को देखते हुए ज्योतिषियों और पंडितों की इन पर खास नजर है। क्योंकि ज्योतिषियों के अनुसार इन ग्रहण से मिथुन राशि के जातकों पर विशेष प्रभाव पड़ेगा। उस समय कुल छह ग्रह वक्री होंगे जो अच्छा संकेत नहीं हैं। कहा जा रहा है कि ग्रहण के कारण ग्रहों की ऐसी स्थिति विश्व भर के लिए मुसीबत का संकेत दे रही है। क्योंकि इन ग्रहणों के चलते प्राकृतिक आपदा आएगी।
ग्रहण क्या होता है और क्यों पड़ता है?
1- सूर्य ग्रहण: यह तब होता है जब चंद्रमा, पृथ्वी और सूर्य के बीच में से गुजरता है.
2- चंद्र ग्रहण: यह तब होता है जब पृथ्वी चंद्रमा के ठीक पीछे उसकी प्रच्छाया में आ जाती है.
किस राशि पर पड़ेगा प्रभाव?
जून और जुलाई में पड़ने वाले ग्रहण का सबसे ज्यादा असर मिथुन राशि पर पड़ेगा। और पूरे 24 घंटे तक इसका प्रभाव रहेगा।
जानिए कब-कब ग्रहण लगेगा?
5 जून 2020 को रात्रि 11 बजकर 15 मिनट से चंद्र ग्रहण शुरू होगा और 6 जून को 2 बजकर 24 मिनट पर समाप्त होगा। इसमें सूतक काल मान्य नहीं होगा।
21 जून 2020 को सूर्य ग्रहण सुबह 9 बजकर 15 मिनट पर लगेगा। यह सूर्य ग्रहण दोपहर 3 बजकर 3 मिनट तक रहेगा। सूतक काल 12 घंटे पूर्व से आरंभ होगा जो समाप्त होने तक रहेगा।

https://www.bharatkhabar.com/nutan-the-first-miss-india-who-became-bollywood-actress/
ग्रहणों का कैसा रहेगा असर?
ज्योतिष के अनुसार ग्रहण के समय मंगल ग्रह मीन में गोचर होकर सूर्य, बुध, चंद्रमा और राहु को देखेंगे जिसके परिणाम शुभ नहीं माने जा रहे हैं। वहीं ग्रहण के समय शनि, गुरु, शुक्र और बुध वक्री स्थिति में होंगे। राहु और केतु की चाल उल्टी ही रहती है। ऐसी स्थिति में 6 ग्रह वक्री होने से दुनिया भर में हलचल की स्थिति बन रही है। इस दौरान प्राकृतिक आपदाओं के चलके हलचल मची रहेगी। जिसका असर पूरे साल भर रहेगा।

Related posts

Savan 2021: आज से शुरू हो रहा है सावन का पवित्र महीना, जानिए महादेव को कैसे करें प्रसन्न

Aditya Mishra

होलका दहन के लिए सात वर्षों में बन रहा विशेष संयोग, इस तरह करें होलिका दहन

bharatkhabar

जाने गुजरात के भावनगर के सारंगपुर में स्थित भव्य हनुमान मंदिर के बारे में

Rahul srivastava