maradona अलविदा! महान फुटबॉलर डिएगो माराडोना, भारत के दिग्गजों ने भी दी श्रद्धांजलि

फुटबॉल के महानतम खिलाड़ियों में शुमार अर्जेंटीना के मशहूर फुटबॉलर रहे डिएगो माराडोना का 60 साल की उम्र में कार्डिएक अरेस्ट के कारण निधन हो गया है. इसी महीने की शुरुआत में दिमाग में क्लॉटिंग के लिए उनका ऑपरेशन हुआ था. ये ऑपरेशन सफल रहा था. बताया गया था कि माराडोना का एल्कोहल डिपेंडेंसी (शराब की लत) के लिए भी इलाज होने वाला था. अर्जेंटीना में 3 दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा कर दी गई है.
अर्जेंटीना फुटबॉल एसोसिएशन ने जारी बयान में कहा कि हमारे लीजेंड खिलाड़ी के निधन की खबर सबसे बड़ा दुख है. आप हमेशा हमारे दिल में रहेंगे.

माराडोना का शानदार करियर
माराडोना ने अपने करियर की शुरुआत 16 साल की उम्र में अर्जेंटीना की जूनियर टीम के साथ की थी. इसके बाद वो दुनिया के सर्वकालिक महान फुटबॉलर में शामिल हो गए. उन्होंने अर्जेंटीना को 1986 फुटबॉल वर्ल्ड कप जितवाने में अहम भूमिका निभाई थी. उनका करियर शानदार रहा. माराडोना ने बोका जूनियर्स, नेपोली और बार्सेलोना के अलावा अन्य क्लब के लिए भी खेले हैं. माराडोना को इंग्लैंड के खिलाफ 1986 के टूर्नमेंट में ‘हैंड ऑफ गॉड’ के लिए याद किया जाता है. साल 2008 में इस दिग्गज खिलाड़ी को राष्ट्रीय टीम का हेड कोच नियुक्त किया गया. साल 2010 विश्व कप के बाद मारोडना ने यह पद छोड़ दिया था, जब अर्जेंटीना को क्वार्टरफाइनल में जर्मनी के हाथों हार का सामना करना पड़ा था. इसे बाद मारोडोना संयुक्त अरब अमीरात और मेक्सिको टीम के कोच रहे.

भारत में शोक की लहर
महान फुटबॉलर डिएगो माराडोना के निधन से भारतीय खेल समुदाय भी शोक में डूब गया और सोशल मीडिया पर इस महानायक को श्रृद्धांजलि दी गई.
सौरव गांगुली
भारतीय क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा कि उन्होंने अपने नायक को खो दिया. भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और बीसीसीआई प्रमुख गांगुली ने लिखा कि मेरा हीरो नहीं रहा. माय मैड जीनियस रेस्ट इन पीस. मैं आपके लिए फुटबॉल देखता था.
सचिन तेंदुलकर
सचिन तेंदुलकर ने कहा कि फुटबॉल और विश्व खेल जगत ने आज महानतम खिलाड़ियों में से एक खो दिया. ईश्वर आपकी आत्मा को शांति दे डिएगो माराडोना. आपकी कमी खलेगी.
प्रफुल्ल पटेल
भारतीय फुटबॉल महासंघ के अध्यक्ष प्रफुल्ल पटेल ने ट्वीट किया कि अर्जेंटीना के महान फुटबॉलर डिएगो माराडोना फुटबॉल के मैदान पर एक जादूगर की तरह थे. फुटबॉल ने आज एक नगीना खो दिया.
बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण
बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने लिखा कि खेल के महानायकों में एक-एक डिएगो माराडोना का निधन. खेल जगत के लिए दु:खद दिन. उनके परिवार, दोस्तों और हितैषियों के प्रति संवेदना.
पूर्व हॉकी कप्तान वीरेन रासकिन्हा
भारत के पूर्व हॉकी कप्तान वीरेन रासकिन्हा ने लिखा कि तमाम यादों और पागलपन के लिए धन्यवाद. भारत के पूर्व फुटबॉलर आई एम विजयन ने लिखा कि फुटबॉल के भगवान, भगवान आपकी आत्मा को शांति दे.
राहुल गांधी
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को महान फुटबाल खिलाड़ी डिएगो माराडोना के निधन पर दु:ख व्यक्त करते हुए कहा कि ‘जादूगर’ माराडोना ने यह दिखाया कि फुटबाल क्यों खूबसूरत खेल है. उन्होंने ट्वीट किया कि महान खिलाड़ी माराडोना हमें छोड़कर चले गए. वे एक जादूगर थे जिन्होंने हमें दिखाया कि फुटबाल क्यों खूबसूरत खेल है. कांग्रेस नेता ने माराडोना के परिजन, मित्रों और प्रशंसकों के प्रति संवेदना प्रकट की.

मुख्यमंत्री के प्रयासों से सीमांत क्षेत्र में पहुंची मोबाईल कनेक्टिविटी, सीएम रावत ने जियो टावर का वर्चुअल माध्यम से किया शुभारम्भ

Previous article

पार्कों को मिली मुख्यमंत्री की स्वीकृति, इन जिला को उप्लब्ध हुई धनराशि

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.