September 22, 2021 10:29 pm
featured देश

जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमण से छठी मौत

जम्मू कश्मीर 3 जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमण से छठी मौत

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में हर दिन बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों के बीच आज शनिवार को एक और दुखद समाचार आया है। उत्तरी कश्मीर के जिला बारामुला के टंगमर्ग में एक बुजुर्ग आदमी की मौत हो गई है। यह वृद्ध कोरोना संक्रमित था और जेवीसी स्किम्स में उसका इलाज 13 अप्रैल से चल रहा था। अस्पताल प्रबंधन ने बताया कि आज शनिवार सुबह बुजुर्ग ने अपनी अंतिम सांस ली। इसी के साथ जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमण से मरने वाले लोगों की संख्या छह हो गई है।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमण से सबसे पहली मौत 25 मार्च को हुई थी। तब्लीगी जमात का प्रचारक 65 वर्षीय वह बुजुर्ग हैदरपोरा श्रीनगर का रहने वाला था। संक्रमित पाए जाने के बाद उसे सीडी अस्पताल श्रीनगर में आइसोलेशन में रखा गया था जहां बाद में उसने दम तोड़ दिया। इसके बाद 29 मार्च को सीडी अस्पताल में ही दूसरी कोरोना संक्रमित मरीज की मृत्यु हुई। इस मरीज की उम्र भी 50 वर्ष के करीब थी और वह भी बारामुला के टंगमर्ग का रहने वाला था।

इस महीने की शुरुआत में बांडीपोरा के एक 54 वर्षीय कोविद -19 मरीज की एसएमएचएस अस्पताल में मौत हो गई थी। बाद में 8 अप्रैल को ऊधमपुर के टिकरी इलाके की रहने वाली 61 वर्षीय महिला की जम्मू के राजकीय मेडिकल कालेज अस्पताल में मृत्यु हुई। इसके बाद सोपोर आरमपोरा इलाके में रहने वाले 70 वर्षीय व्यक्ति की सीडी अस्पताल श्रीनगर में मृत्यु हुई। जम्मू-कश्मीर में कोरोना सकारात्मक मामलों की संख्या अब तक 454 पहुंच गई है जबकि आज हुई मौत के बाद मरने वालों का आंकड़ों छह हो गया है।

https://www.bharatkhabar.com/there-is-no-need-to-stop-the-dearness-allowance-of-employees-former-prime-minister-manmohan-singh/

जम्मू राजकीय मेडिकल कालेज में उपचाराधीन पांच संक्रमितों को आज स्वस्थ पाए जाने के बाद छुट्टी दे दी गई। इसके साथ जम्मू शहर में स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या 10 जबकि जम्मू संभाग में 22 हो गई है। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार इन मरीजों को आज शनिवार को छुट्टी देकर घर भेजा गया है। हालांकि उन्हें घर जाकर अभी दो सप्ताह के लिए क्वारंटाइन रहने की हिदायत दी गई है। डॉक्टरों का कहना है कि संक्रमित होने पर जीएमसी में आइसाेलेट किए गए इन मरीजों के बार-बार किए गए टेस्ट नेगेटिव पाए गए। जिसके बाद उन्हें घर भेजने का फैसला लिया गया। उन्होंने बताया कि कुछ और मरीज भी ऐसे हैं जिनके टेस्ट नेगेटिव पाए गए हैं। अभी फिलहाल उनके कुछ ओर टेस्ट किए जाएंगे, यदि वे भी नेगेटिव पाए जाते हैं तो उन्हें भी छुट्टी दे दी जाएगी।

Related posts

शहाबुद्दीन की जमानत रद्द करने पर सुप्रीम कोर्ट करेगा सुनवाई

shipra saxena

जाकिर नाइक को मुंबई में नहीं मिली प्रेस कांफ्रेंस की जगह

bharatkhabar

जर्मनी के ऊपर से गुजर रहा था प्लेन, अचानक ATC रूम से टूट गया संपर्क

kumari ashu