सिद्धू ने इशारों में कसा अकालियों पर तंज,पशुओं की जगह तक नहीं छोड़ी

सिद्धू ने इशारों में कसा अकालियों पर तंज,पशुओं की जगह तक नहीं छोड़ी

चंडीगढ़। पंजाब के स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने बजट सत्र के दौरान विधानसभा में कहा कि लावारिस पशुओं के लिए दी गई जमीन पर नेताओं और आम लोगों ने कब्जा कर लिया है। दरअसल विधानसभा में ध्यानाकर्षण प्रस्ताव को लेकर आप विधायकों और नेता प्रतिपक्ष सुखपाल सिंह खैहरा की तरफ से उठाए गए मुद्दों पर सिद्धू को विपक्ष ने लावारिस पशुओं और कुत्तों के मुद्दे पर घेरा, जिस पर सदन में जमकर हंगामा हुआ। नेता प्रतिपक्ष खैहरा ने कहा कि हर साल छह हजार से ज्यादा लोग लावारिस पशुओं के कारण अपनी जान से हाथ धो बैठते हैं। इस पर सिद्धू ने कहा कि कोई लावारिस पशुओं को गोद नहीं लेता।

सिद्धू ने कहा कि लावारिस पशुओं और गायों के नाम पर पंजाब में चार हजार एकड़ जमीनों पर कब्जे हुए हैं। उन्होंने अकाली नेताओं की ओर इशारा करते हुए कहा कि कब्जे करने वालों में कुछ यहीं सामने बैठे हैं, जिसके बाद सदन में हंगामा शुरू हो गया। सिद्धू ने कहा कि इस जमीन को कब्जामुक्त बनाकर पंजाब के अलग-अलग स्थानों पर गोचर स्थलों को विकसित किया जाएगा और साथ ही लावारिस कुत्तों के लिए डॉग पाउंड बनाए जाएंगे।

जमीन पर किसने  कब्जा किया है और किसने नहीं इस पर सरकार क्या कार्रवाई करेगी, इसे लेकर एक माह में विस्तृत रिपोर्ट सरकार के समक्ष पेश की जाएगी। गौरतलब है कि लावारिस पशुओं के कारण पंजाब में हर वर्ष बड़ी संख्या में सड़क हादसे तो होते ही हैं, साथ ही फसल को भी भारी नुकसान होता है। लावारिस कुत्तों के कारण आए दिन लोगों को जान से हाथ धोना पड़ता है। बच्चे इसके ज्यादा शिकार होते हैं।