November 29, 2021 8:21 pm
featured देश हेल्थ

कोरोना वैक्सीन लगने के बाद नहीं हुए साइड इफेक्ट्स, तो क्या है इसका मतलब, क्या दवाई नहीं करेगी असर?

Capture 5 कोरोना वैक्सीन लगने के बाद नहीं हुए साइड इफेक्ट्स, तो क्या है इसका मतलब, क्या दवाई नहीं करेगी असर?

देशभर में कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप है और विशेषज्ञों का कहना है कि तेज गति से टीकाकरण ही इसका समाधान है।

इसी के चलते देशभर में वैक्सीनेशन अभियान चलाया भी जा रहा है। लेकिन वैक्सीन को लेकर भी आम जनता के दिमाग के में कई सवाल हैं।

वैक्सीन से होते हैं साइड इफेक्ट्स?

लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिये देशभर में प्रोत्साहित किया जा रहा है। लोग वैक्सीन लगवा भी रहे हैं। लेकिन इसी के साथ ही लोगों के दिमाग में वैक्सीन को लेकर कई सारे सवाल भी हैं। यही की वैक्सीन से कोई साइड इफेक्ट्स तो नहीं होंगे। क्योंकि कुछ लोगों में इसके साइड इफेक्ट्स देखने को मिल भी रहे हैं। ऐसे में एक सवाल ये भी है कि क्या अगर कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद कोई साइड इफेक्ट नहीं दिख रहे हैं, तो क्या ये असर नहीं करेगी?

वैक्सीन लगवाने के बाद कैसे लक्षण दिखते हैं

बुखार, सिर दर्द, इंजेक्शन लगने वाली जगह पर दर्द होना, कमजोरी और थकावट होना, बदन दर्द होना।

वैक्सीन के बाद नहीं दिखे कोई लक्षण

कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद अगर किसी के शरीर में साइड इफेक्ट्स नहीं दिखे तो इसका ये मतलब बिल्कुल नहीं है कि उस व्यक्ति के शरीर में वैक्सीन सही तरीके से काम नहीं कर रही है। विशेषज्ञों का मानना है कि जिस व्यक्ति में साइड इफेक्ट्स दिखते हैं और जिस व्यक्ति में नहीं दिखते हैं, दोनों के ही शरीर में कोरोना वायरस वैक्सीन बराबर काम करती है।

आपको बता दें कि कोरोना वैक्सीन के परीक्षण के आंकड़ों को देखें तो पता चलता है कि आधे से ज्यादा प्रतिभागियों को कोरोना वैक्सीन लेने के बाद कोई साइड इफेक्ट्स नहीं हुए, लेकिन वैक्सीन लेने के बाद वो भी 90 प्रतिशत से अधिक संरक्षित थे। इसका मतलब ये कि साइड इफेक्ट्स हों तो भी ठीक और न दिखें तो भी कोई दिक्कत नहीं। बस हर किसी को वैक्सीन जरूर लगवानी चाहिए।

Related posts

श्रीदेवी के नागिन लुक में नजर आई राखी सावंत, वीडियो देख हंसी नहीं रोक पा रहे फैंस

Sachin Mishra

गुजरात चुनाव: रूपाणी के सामने सबसे अमीर उम्मीदवार, 141 करोड़ की संपत्ति के मालिक

Rani Naqvi

दिल्ली के रेस्त्रां ने नहीं दिया गरीब बच्चों को खाना

bharatkhabar