September 28, 2021 1:49 am
featured यूपी

अमेठी: मुहर्रम जुलूस की ‘पाबंदी’ पर भड़का शिया समुदाय, प्रशासन पर उठाए गंभीर सवाल

अमेठी: मुहर्रम जुलूस की ‘पाबंदी’ पर भड़का शिया समुदाय, प्रशासन पर उठाए गंभीर सवाल

अमेठीः मुहर्रम के त्यौहार पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने गाइडलाइन जारी करते हुए जुलूस पर रोक लगा दी है। कोरोना महामारी और सुरक्षा को देखते हुए पुलिस ने रोक लगाई है। जिसके बाद शिया समुदाय में काफी जगह इसका विरोध देखा गया। बता दें कि मुहर्रम के त्योहार को लेकर आयोजित हुई पीस कमेटी की बैठक में मुस्लिम समुदाय (शिया) ने समुदाय विशेष पर ही नियम कानून बनाए जाने का आरोप लगाया है।

दरअसल, बीते दिनों अमेठी जिला पंचायत अध्यक्ष राजेश मसाला की ओर से प्राण-प्रतिष्ठा के दौरान एक शोभायात्रा निकाली गई थी। जिसमें हजारों की संख्या में लोग शामिल हुए थे। मुस्लिम समुदाय ने मुहर्रम में जुलूस निकालने पर लगी पाबंदी पर प्रशासन पर पक्षपात का आरोप लगाया है।

बैठक में शिया समुदाय ने उठाए सवाल

पीस कमेटी की बैठक के दौरान शिया समुदाय के वकार जैदी ने प्रशासन पर एक धर्म विशेष के साथ पक्षपात करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि अभी 4 दिन पहले अमेठी नगर में शोभायात्रा निकाली गई थी। जिसमें डीजे की धुन पर डांस करते हुए सैकड़ों लोग शामिल हुए और उन्हें शोभायात्रा निकालने दिया गया। जब हमारा त्योहार मुहर्रम मनाने की बारी आई तो हमें कोरोना का भय दिखाकर रोका जा रहा है। जब 600–700 लोगों ने शोभायात्रा निकाली गई तब कोरोना गाइडलाइन कहां थी। अब हमारे त्योहार मनाने का वक्त आया है तो हमें कोरोना गाइडलाइन का हवाला देते हुए रोका जा रहा है।

शिया समुदाय के सैय्यद वकार जैदी ने कहा कि मुहर्रम का जुलूस पूर्व में जैसे निकलता था, वैसे हमें निकालने की इजाजत दी जाए। पंचायत चुनाव हुआ। हम कोरोना गाइडलाइन का पालन करेंगे। हम चाहते हैं कि हमारा मुहर्रम का त्योहार, जो शोक का पर्व है, उसे हमें पूर्व की भांति मनाने की इजाजत दी जाए। आगामी मुहर्रम के त्योहार को सकुशल संपन्न कराने के लिए अमेठी कोतवाली में मुस्लिम समुदाय के धर्मगुरुओं और अन्य बुद्धिजीवी लोगों के साथ पीस कमेटी की बैठक हुई। इसमें क्षेत्राधिकारी अर्पित कपूर, कोतवाली इंस्पेक्टर श्याम सुंदर के साथ अन्य स्टाफ मौजूद रहा।

Related posts

बिहार में तेज हुई तबलीग़ी जमात के मरकजों की तलाश

Shubham Gupta

हिंदुस्तान ने खुद को योग से जोड़ा तो दुनिया भी योग से जुड़ गई: पीएम मोदी

Rani Naqvi

बंगाल: ममता ने उठाई चार राजधानियों की मांग, बोलीं- देश में एक ही राजधानी क्यों रहे?

Aman Sharma