November 27, 2021 1:42 pm
featured राजस्थान

राजस्थान में कोरोना के बढ़ते मरीजों को देखकर सीएम गहलोत ने दी ये सलह

ashok gahlot राजस्थान में कोरोना के बढ़ते मरीजों को देखकर सीएम गहलोत ने दी ये सलह

राजस्थान में बुधवार को कोरोना के 109 नए मामले सामने आए। इनमें झालावाड़ में 64, कोटा में 16, नागौर में 12, जयपुर और भरतपुर में 6-6, झुंझुनू में 2, बीकानेर, करौली और दौसा में 1-1 संक्रमित मरीज मिला।

जयपुर। राजस्थान में बुधवार को कोरोना के 109 नए मामले सामने आए। इनमें झालावाड़ में 64, कोटा में 16, नागौर में 12, जयपुर और भरतपुर में 6-6, झुंझुनू में 2, बीकानेर, करौली और दौसा में 1-1 संक्रमित मरीज मिला। इसके बाद कुल संक्रमितों का आंकड़ा 7645 पहुंच गया। वहीं, जयपुर में संक्रमण से दो और लोगों की मौत भी हो गई। इसके बाद राज्य में मौतों का कुल आंकड़ा 172 पर पहुंच गया।

बता दें कि उधर, कांग्रेस ने लॉकडाउन से प्रभावित लोगों के खातों में नकद पैसा ट्रांसफर करने की मांग तेज कर दी है। मंगलवार को राहुल गांधी की प्रेस कांफ्रेंस के बाद सीएम अशोक गहलोत ने ट्वीट करके राहुल गांधी की ओर से उठाए गए मुद्दों का समर्थन करते हुए केंद्र सरकार पर सवाल उठाए। अशोक गहलोत ने राहुल की लाइन लेते हुए लॉकडाउन से प्रभावित लोगों के खातों में पैसा ट्रांसफर करने की मांग की।

वहीं केंद्र ने कोरोना महामारी को नियंत्रित करने के मामले में जयपुर समेत 4 शहरों को रोल मॉडल चुना है। तीन अन्य शहर इंदौर, चेन्नई और बेंगलुरु भी शामिल हैं। कुछ दिन पहले केंद्र ने कोरोना के सर्वाधिक संक्रमित और न्यूनतम मृत्यु दर वाले शहरों के नगर निकायों के साथ बैठक की थी। इसमें पाया कि जयपुर और इंदौर ने संक्रमितों के बढ़ते आंकड़ों को कंट्रोल किया।

https://www.bharatkhabar.com/what-did-health-expert-ashish-jha-say-about-rahul-gandhis-vaccine-question/

चेन्नई और बेंगलुरु ने मृत्यु दर (1%) को बढ़ने नहीं दिया। जयपुर और इंदौर ने घर-घर सर्वे करवाकर और संक्रमितों की कॉन्टैक्ट हिस्ट्री का पता लगाकर कोरोना को कंट्रोल किया। जयपुर ने सुपर स्प्रेडर्स जैसे फल-सब्जी और किराना वालों को सीमित संख्या में लाइसेंस दिए ताकि फेरी वालों से घरों तक संक्रमण न पहुंचे।

जयपुर के एसएमएस अस्पताल के पैथोलॉजी लैब में कार्यरत टेक्निशियन और एमआरआई सेंटर में कार्यरत टेक्निशियन पॉजिटिव आए हैं। नर्सिंग स्टाफ में तैनात एक कर्मचारी की भी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं, अस्पताल का नर्सिंग हेल्पर भी पॉजिटिव आया है। जयपुर में अब तक 97 हेल्थ वॉरियर्स पॉजिटिव आ चुके हैं। इनमें 25 डॉक्टर, 40 नर्सिंग कर्मी और स्वास्थ्य कर्मी शामिल हैं।

 

कोटा में छावनी नगर निगम कॉलोनी का ही 16 साल का किशोर भी संक्रमित पाया गया है। यह पूर्व में पॉजिटिव आ चुके लोगों का रिश्तेदार है। इसके अलावा, छावनी में ही सब्जीमंडी के पास रहने वाला 26 साल का युवक संक्रमित पाया गया है। परिजनों ने बताया कि फ्रिज में रखा केक खाने के बाद गले में खराश हुई और सैंपल दिया तो रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई।

दूध मुंही बच्ची हिमांशी की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव

भीलवाड़ा में रमेश नाथ व उसकी तीन महीने की दूध मुंही बच्ची हिमांशी की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई थीं। जबकि उसकी पत्नी और दो अन्य बच्चियों की रिपोर्ट निगेटिव आई। तीन महीने की दूध मुंही बच्ची के लिए मां का दूध जरूरी था। डॉक्टर्स ने मां को बच्ची के पास रखने का प्लान किया। लेकिन दो बच्चे और भी थे। इन्हें कोई रिश्तेदार अपने पास रखने को राजी नहीं था। पॉजिटिव पिता व पॉजिटिव तीन महीने की बच्ची को एक कॉटेज रूम में शिफ्ट किया गया। वहीं, तीनों निगेटिव यानी मां व अन्य दो बेटियों को पास ही के दूसरे कॉटेज रूम में रखा गया ताकि मां तीन महीने की बच्ची को दूध पिला सके। इसके बाद मां रोज कटोरी में दूध निकालकर चम्मच से पिलाती। डॉक्टर्स की विशेष देखभाल में मां ने सुरक्षित तरीके से बच्ची को दूध पिलाया और बच्ची ने कोरोना पर जीत हासिल की। दूसरी और तीसरी जांच नेगेटिव आने पर बच्ची को मंगलवार को डिस्चार्ज कर दिया गया।

Related posts

मुरादाबाद में ईदे मिलाद-उन-नबी के जुलूस में फायरिंग, फोर्स तैनात

Rani Naqvi

लखनऊ में पकड़े गए अलकायदा आतंकी की पत्‍नी का इंटीग्रल यूनिवर्सिटी कनेक्‍शन!

Shailendra Singh

सैनिक को शहीद के दर्जे और आर्थिक सहायता देने के खिलाफ याचिका दायर

shipra saxena