ड्रोन की निगरानी में यूपी के सीएम संभालेंगे सत्ता

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के नये सीएम के शपथ ग्रहण की तैयारियां जोरों पर है। शहर के हालातों और लगातार आईएसआईएस से मिल रही धमकियों को लेकर भी पुलिस काफी अलर्ट है। ऐसे में पुलिस जरा सा भी गलती करना नहीं चाहती है। शपथ ग्रहण की सुरक्षा की कमान संभाले एडीजी एलओ ने भारी पुलिस फोर्स तैनात की है तो उनकी निगरानी के लिए ड्रोन कैमरे भी लगाये जायेंगे।

शपथ ग्रहण समारोह के चलते एडीजी दलजीत चौधरी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि समारोह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी आने की उम्मीद है। इस शपथ ग्रहण में अन्य राज्यों के मुख्यमंत्री समेत केन्द्र के मंत्री भी होंगे। इस वक्त जो राजधानी के हालात हैं उसे भी भूला नहीं जा सकता। आगरा में आईएसआईएस से ताज महल को उड़ाने की धमकी भी दी गई है। इसे मद्देनजर शपथ ग्रहण में भारी फोर्स को लगाया गया है।

शपथ ग्रहण स्थल पर ड्रोन कैमरा भी लगाया जायेगा जो मंच से लेकर आसपास के क्षेत्र को कवर करेगा। मंच के पास बिना वर्दी में एटीएस, एसटीएफ समेंत खुफिया विभाग के साथ स्थानीय पुलिस होगी। जबकि इस स्थल से पांच किलो मीटर तक के क्षेत्र को सील कर दिया जायेगा। चौराहों पर लगे सीसीटीवी व भवन की छतों पर पुलिस दूरबीन लेकर खड़ी रहेगी।

एसपीजी ने मंच का लिया जायेजा

राजधानी में सीएम के शपथ ग्रहण में प्रधानमंत्री मोदी आ रहे हैं। उनकी सुरक्षा को लेकर शुक्रवार को एसपीजी की टीम लखनऊ आ गई है। सबसे पहले उन्होंने मंच को अपने कब्जे में ले लिया और जांच की। उनकी आने ठहरने के साथ हर मामले को अपने स्तर से जांच की हैं। इस समारोह में करीबन 50 हजार लोगों के आने की उम्मीद जताई जा रही हैं। जिसके चलते 7 एसपी 54 एएसपी, 50 डीएसपी, 550 इंस्पेक्टर, 3370 सिपाही, 18 कंपनी अर्धसैनिक बल, 16 कंपनी पीएसी, 550 ट्रैफिक सिपाही होंगे।