corona1 देश में कोरोना की दूसरी लहर, 24 घंटे में सामने आए 62 हजार केस, 200 से ज्यादा मौत

नई दिल्ली: जानलेवा कोरोना एक बार फिर डराने लगा है। पहले जैसे फिर से हालात पैदा हो रहे है। लागातार बढ़ता संक्रमण लोगों के अंदर खौफ पैदा कर रहा है।

160 से अधिक दिन बाद एक बार फिर कोरोना ने सारे रिकॉर्ड तोड दिए हैं। आज देश में 62 हजार से ज्यादा मामले दर्ज किए गए है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक देश में पिछले 24 घंटे में 62 हजार 258 नए मामले सामने आए हैं। तो वहीं 291 लोगों की कोरोना से जान चली गई है। हालांकि इस बीच 30 हजार 386 लोग कोरोना को मात देकर ठीक हुए हैं। इससे पहले पिछले साल 16 अक्टूबर को 62 हजार से ज्यादा केस दर्ज किए गए थे।

अब तक कोरोना की स्थिति

कुल मामले- एक करोड़ 19 लाख 8 हजार 910
कुल डिस्चार्ज- एख करोड़ 12 लाख 95 हजार 23
कुल मौत- एक लाख 61 हजार 240
कुल एक्टिव केस- 4 लाख 52 हजार 647
कुल टीकाकरण- 5 करोड़ 81 लाख 9 हजार 773
कुल टेस्ट- 23 करोड़ 97 लाख 69 हजार 553

एक समय ऐसा था जब देश में कोरोना संक्रमण की संख्या घटने लगी थी। इसी साल एक फरवरी को देश में 10 हजार से कम केस दर्ज किए गए थे। एक दिन में कोरोना के दर्ज किए गए केसों में यह सबसे कम संख्या थी।

करीब 6 करोड़ को लगा टीका 

स्वास्थ्य मंत्रालय के जारी आंकड़ों के अनुसार देश में अब तक 5 करोड़ 81 लाख 9 हजार 773 लोगों को कोरोना टीका लगाया जा चुका है। जिसमें से 26 लाख 5 हजार लोगों को कल वैक्सीन की डोज दी गई है। इसके अलावा एक अप्रैल से 45 साल से ऊपर के लोगों को वैक्सीन दी जाएगी। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अब तक 23 करोड़ 97 लाख 69 हजार 553 लोगों के सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं। जिसमें से कल 11 लाख 64 हजार 915 लोगों के सैंपल टेस्ट किए गए हैं।

महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा केस 

कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले रोजाना महाराष्ट्र में ही दर्ज हो रहे हैं। राज्य में हर दिन नए मामलों में इजाफा देखा जा रहा है। पिछले 24 घंटे में 36 हजार 902 नए केस आए। हालांकि इस महामारी को मात देकर 17,019 लोग ठीक भी हुए हैं। राज्य में अबतक कोरोना के 26 लाख 37 हजार 735 केस दर्ज हो चुके हैं। इनमें से 53 हजार 907 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि अभी दो लाख 82 हजार 451 लोगों का इलाज चल रहा है। कल भी 35 लाख से ज्यादा मामले दर्ज किए गए थे।

स्वामी चिन्मयानंद को कोर्ट से मिली बड़ी राहत, रेप मामले में हुए दोषमुक्त

Previous article

अल्मोड़ा: 49-सल्ट विधानसभा के लिए उपचुनाव, भारत निर्वाचन आयोग ने एग्जिट पोल के प्रचार पर लगाई रोक

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured