लगातार दूसरी बार हज यात्रा पर लगी ये पाबंदी

लखनऊ: हज यात्रा पर जाने की आस लगाए बैठे लोगों के लिए मायूसी भरी खबर है। दुनिया भर में फैली कोरोना महामारी की वजह से लगातार दूसरे साल भी विदेशी श्रद्धालु हज यात्रा पर नहीं जा सकेंगे। सऊदी अरब सरकार ने कहा है कि इस साल केवल स्थानीय लोगों को ही हज यात्रा के लिए जाने की इज़ाज़त मिलेगी। उसमें भी सिर्फ 60,000 लोगों को अनुमति दी जाएगी।

कोरोना के चलते लिया गया फैसला

दरअसल, वैश्विक महामारी कोरोना के कारण लगातार दूसरी बार ऐसा हुआ है। जानकारी के मुताबिक, इस बार हज यात्रा जुलाई महीने के मध्य में शुरू होगी। साथ ही हज यात्रियों के लिए वैक्सीन लगवाना अनिवार्य होगा। इसके पीछे का तर्क ये दिया गया है कि हाजियों के स्वास्थ्य और उनकी सुरक्षा को देखते हुए और विचार-विमर्श के साथ ये फैलसा लिया गया है। इस यात्रा में 18 वर्ष या उससे ऊपर आयु वर्ग के लोग से लेकर 65 वर्ष तक के लोग हिस्सा ले सकते हैं।

सामान्य हालातों में लगभग 20 लाख हज यात्रा पर जाते हैं

बता दें कि सामान्य हालातों में लगभग 20 लाख यात्री हज पर जाते हैं जिसमें भारतीयों के साथ-साथ कई विदेशी भी शामिल होते हैं। कोरोना महामारी से पहले लगभग दो लाख भारतीय हज पर गए थे।

कोविड मौतों के गलत आंकड़ों पर AIIMS डायरेक्टर की चेतावनी, ध्‍यान से पढ़ लें खबर

Previous article

अजब प्रेम की गजब कहानीः शादी के लिए तैयार था दुल्हा… फिर आ धमकी महबूबा, शुरू हुआ हाईवोल्टेज ड्रामा

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured