सेना से नहीं की थी स्वयंसेवकों की तुलना: संघ

नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने सरसंघचालक मोहन भागवत के बयान को गलत ढंग से पेश करने का आरोप लगाया है। संघ ने स्पष्ट किया है कि सरसंघचालक ने स्वयंसेवकों की तुलना सेना से नहीं की थी। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख डॉ. मनमोहन वैद्य ने सोमवार को वक्तव्य जारी कर कहा है कि सरसंघचालक मोहन भागवत के मुजफ्फरपुर (बिहार) में दिए गए वक्तव्य को गलत तरीके से प्रस्तुत किया जा रहा है।

rss
rss

बता दें कि उन्होंने बयान में कहा है कि भागवत जी ने कहा था कि परिस्थिति आने पर तथा संविधान द्वारा मान्य होने पर भारतीय सेना को सामान्य समाज को तैयार करने के लिए 6 महीना का समय लगेगा तो संघ स्वयंसेवकों को भारतीय सेना 3 दिन में तैयार कर सकेगी, कारण स्वयंसेवकों को अनुशासन का अभ्यास रहता है। यह सेना के साथ तुलना नहीं थी पर सामान्य समाज और स्वयंसेवकों के बीच में थी। दोनों को भारतीय सेना को ही तैयार करना होगा।