अपने गढ़ को मजबूत करने मैदान में उतरे सपा कार्यकर्ता, 2022 में बदल सकते हैं परिणाम!

प्रयागराजः उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के अभी 8 महीने बाकी हैं, लेकिन प्रदेश के प्रमुख पार्टियों ने अपनी तैयारियां तेज कर दी हैं। प्रदेश की मुख्य विपक्षी समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता बूथ स्तर पर पार्टी को मजबूत बनाने की दिशा में तेजी से जुट गए हैं।

सपा अल्पसंख्यक सभा के प्रदेश सचिव मो. शारिफ ने भाजपा शासन में आर्थिक तंगी झेल रहे लोगों के दर्द को करीब से समझने के लिए उनके पास गए और उन सभी का हाल जाना।

शहर के दक्षिणी विधानसभा क्षेत्र के नैनीक वाले घनी आबादी वाले क्षेत्र में झोपड़ पट्टी में रहने वाले गरीबों व असहायों के पास सपा कार्यकर्ता पहुंचे। इस दौरान मो. शारिक ने पुराना पुल, बलुआघाट, दरियाबाद, करैली, कीडगंड, मुठ्टीगंज आदि क्षेत्रों में जनता से संपर्क किया।

मुट्ठीगंज के दाल व्यापारी रामबाबू जायसवाल ने भाजपा सरकार पर नारजगी जाहिर करते हुए कहा कि इस बार अखिलेश यादव को प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाना है। वहीं, कीडगंज के विनीत केसरवानी से सपा को वापस लाने की कसम खाई और कहा कि बीजेपी सरकार ने व्यापारियों की स्थिति बद से बदत्तर कर दी है। इस बार भाजपा सरकार का जाना तय है।

जनसंपर्क के दौरान मो०अज़हर, सद्दाम, नियामत, गुड्डू, अहमद रज़ा, अनस रज़ा, श्याम कृष्ण साहु, रामबाबू जायसवाल, विनीत केसरवानी आदि मौजूद रहे।

International Yoga day: इस योग दिवस जानें कुछ नियम, वरना हो सकता है नुकसान

Previous article

बसपा का दामन छोड़ सपा की तरफ मुड़े कई विधायक! जानिए पूरा घटनाक्रम

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured