featured यूपी

नूरपूर गांव के विवाद ने ओढ़ा सांप्रदायिक चोला, साध्वी प्राची ने किया मस्जिद में हवन का ऐलान

नूरपूर गांव के विवाद ने ओढ़ा संप्रादायिक चोला, साध्वी प्राची ने किया मस्जिद में हवन का ऐलान

अलीगढ़ः जिले के नूरपुर गांव में हो रहे हिंदुओं के पलायन का मुद्द अब राजनीतिक रूप लेता दिखाई दे रहा है। रविवार को विश्व हिंदू परिषद की नेता साध्वी प्राची ने ऐलान किया कि वह गांव की मस्जिद में जाकर हवन करेंगी। जिसके बाद गांव के आस-पास भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया।

हलांकि साध्वी प्राची ऐलान के बावजूद नूरपुर गांव नहीं पहुंची। लेकिन भगवा दलों से जुड़े कार्यकर्ताओं गांव पहुंचे और गांव के अंदर जाने के लिए पुलिस से नोकझोंक भी हुई। वहीं, करणी सेना से जुड़े विकास ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस हमें गांव में घुसने नहीं दे रही है। जबकि नूरपुर के हाली दलवीर खान का कहना है कि राजनीतिक दल अनावाश्यक विवाद पैदा कर रहा है।

दरअसल, ये पूरा मामला 26 मई के बाद सुर्खियों में आया, जब गांव के एक दलित परिवार की बेटी की शादी थी। मस्जिद के पास पहुंची बारात को रोक दिया गया और बज रहे गाने को बंद करने के लिए कहा गया। मस्जिद के अंदर चल रही नमाज का हवाला देते हुए लोगों ने कहा कि गाने को बंद कर दिया जाए। गाने को लेकर हुए विवाद मे कुछ अल्पसंख्यकों ने आरोप लगाया कि उन पर हमला भी हुआ था। वहीं, जब इस पूरे मामले में पुलिस का हस्तक्षेप हुआ तो मामला थोड़ा शांत हुआ और 11 लोगों के खिलाफ मकुदमा दर्ज हुआ।

घटना के कुछ दिन बीतने के बाद दलित समुदाय के लोगों ने अपने घरों से बाहर ‘ये घर बिकाऊ है’ लिखकर चले गए। घटना पर सांप्रदायिक रंग चढ़ने लगा।

बीजेपी सांसद सतीश गौतम ने कुछ विधायकों के साथ जाकर दलित परिवार से मुलाकात की तो वहीं AIMIM से जुड़े नेता ने विवादित बयान दे दिया।

Related posts

Rupjyoti Kurmi On Taj Mahal: भाजपा नेता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से की ताजमहल गिराने का आग्रह

Rahul

UP News: कोहरे की वजह से आगरा मंडल की ट्रेनें देरी से चली, देखें लिस्ट

Rahul

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर विपक्ष की बढ़ी परेशानी

piyush shukla