featured राजस्थान राज्य

सचिन पायलट के साथ उनके सभी विधायकों पर गिरी गाज, जाने क्या बोले रणदीप सुरजेवाला

राजस्थान पाप की नगरी या रावण की लंका नहीं- सचिन पायलट

कांग्रेस पार्टी ने बड़ा एक्शन लेते हुए सचिन पायलट को प्रदेश अध्यक्ष पद और उपमुख्यमंत्री के पद से हटा दिया है। साथ ही पायलट समर्थक मंत्रियों को भी हटाया गया है।

जयपुर। कांग्रेस पार्टी ने बड़ा एक्शन लेते हुए सचिन पायलट को प्रदेश अध्यक्ष पद और उपमुख्यमंत्री के पद से हटा दिया है। साथ ही पायलट समर्थक मंत्रियों को भी हटाया गया है। सचिन पायलट के अलावा विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा को मंत्रिमंडल से बाहर निकाला गया है।

बता दें कि सचिन पायलट पर कांग्रेस का वार कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने एक षडयंत्र के तहत राजस्थान की 8 करोड़ जनता के सम्मान को चुनौती दी है। बीजेपी ने साजिश के तहत कांग्रेस की सरकार को अस्थिर कर गिराने की साजिश की है। बीजेपी धनबल और सत्ताबल से कांग्रेस पार्टी और निर्दलीय विधायकों को खरीदने की कोशिश की है।

https://www.bharatkhabar.com/a-beautiful-picture-of-prithvi-that-went-viral-on-social-media-in-1969/

वहीं रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि सचिन पायलट भ्रमित होकर बीजेपी के जाल में फंस गए और कांग्रेस सरकार गिराने में लग गए। पिछले 72 घंटे से कांग्रेस आलाकमान ने सचिन पायलट और अन्य नेताओं से संपर्क करने की कोशिश की। कांग्रेस की ओर से लगातार सचिन पायलट को मनाने की कोशिश की गई, लेकिन उन्होंने लगातार हर बात को नकारा।

साथ ही माना जा रहा है कि अशोक गहलोत पहले राजभवन पहुंचे। अशोक गहलोत, ने अपने मंत्रिमंडल में बदलाव करने का फैसला लिया। इस दौरान सचिन पायलट के समर्थक मंत्रियों को बाहर का रास्ता दिखाया। कांग्रेस पार्टी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उसके बाद सचिन पायलट और उनके विधायकों को उनके पद से हटाया गया।

Related posts

राजस्थान सीमा से सटे भारत-पाक सीमा की होगी ड्रोन से निगरानी

shipra saxena

Aaj Ka Panchang: जानिए 12 अगस्त 2022, शुक्रवार का पंचांग, तिथि और राहुकाल का समय

Nitin Gupta

सिलेंडर के विस्फोट से उड़ी मकान की छत, परिवार में छाया मातम

Trinath Mishra