featured दुनिया

अमेरिका के साथ मिलकर रूस चांद पर जानें की कर रहा तैयारी..

Russia needs India support for the reconstruction of Afghanistan Putin अमेरिका के साथ मिलकर रूस चांद पर जानें की कर रहा तैयारी..

रूसी संघीय अंतरिक्ष एजेंसी रोस्कोस्मोस के पहले चंद्र लैंडर मिशन, लूना -25 को अमेरिका और यूरोपीय उपकरणों की मदद से लॉन्च किया जाएगा। “लूना-ग्लोब” परियोजना के लिए रूस स्विट्जरलैंड में चार गोलाकार परावर्तक उपकरण खरीदेगा। जिसमें यूएस के 250 चुंबकीय आधार लगे होंगे। रूस अमेरिका से उपकरण खरीद रहा है। क्योंकि एनालॉग्स की कमी है।

moon 2 अमेरिका के साथ मिलकर रूस चांद पर जानें की कर रहा तैयारी..
रूस के महत्वाकांक्षी चंद्र मिशन में विदेशी देशों की भागीदारी परीक्षण उपकरणों तक सीमित नहीं है। स्विट्जरलैंड के साथ संयुक्त रूप से रूस लूना -25 मिशन के लिए जुड़ा हुआ है। लूना-25 की लॉन्च की तारीख 1 अक्टूबर 2021 है। चांद के ध्रुवीय क्षेत्र में सॉफ्ट लैंडिंग तकनीक का परीक्षण करने के लिए डेवलपर्स के साथ लूना -25 को चंद्र दक्षिणी ध्रुव के पास उतरने की उम्मीद है।

https://www.bharatkhabar.com/nasa-touts-solid-ties-with-russia-roscosmos/
यह परियोजना रोस्कोस्मॉस द्वारा लूना-ग्लोब मून एक्सप्लोरेशन प्रोग्राम का हिस्सा है, जिसका उद्देश्य पूरी तरह से रोबोट चंद्र बेस के निर्माण की दिशा में बढ़ना है। इस दशक के अंत में, लूना-26 चंद्रमा की सतह को नापेगा और कई जानकारियां जुटाएगा।

Credit:- Sputnik News Russia

Related posts

सुरक्षा एजेंसियों का दावा, पंजाब में बढ़ सकती है आतंकवादी घटनाएं

Breaking News

महिला सशक्तिकरण: अब इस जिले के पेट्रोल पंप की कमान महिलाओं के हाथ

Shailendra Singh

पीएम मोदी ने किया प्रवासी भारती दिवस सम्मेलन का उद्घाटन, आत्मनिर्भर बनने पर दिया जोर

Aman Sharma