Breaking News featured उत्तराखंड

बदरीनाथ हाईवे पर दर्दनाक हादसा, दो लोगों समेत गंगा में समाई कार

WhatsApp Image 2021 01 10 at 2.49.39 PM बदरीनाथ हाईवे पर दर्दनाक हादसा, दो लोगों समेत गंगा में समाई कार

दहरादून। बदरीनाथ की यात्रा पर यूपी बिहार की जनता बदरीनाथ के दर्शन करने जा रही है। इसी बीच पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी और मैदानी इलाको में कोहरे का कहर बना हुआ है। ऐसे में सुबह 10 बजे के बाद भी हाईवे पर वाहनों की हैडलाइट जली मिलती है। हाईवे पर वाहनों की रफ्तार कोहरे की वजह से धीमी पड़ गई है। इसी बीच रविवार सुबह बदरीनाथ हाईवे पर दर्दनाक हादसे में दो लोगों की मौत हो गई।

आपको बता दें कि उत्तराखंड में बदरीनाथ हाईवे पर रविवार सुबह दर्दनाक हादसा हो गया। देवप्रयाग के पास एक अल्टो कार अनियंत्रित होकर गंगा नदी में जा गिरी। हादसे में दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक घटना सुबह करीब पौने आठ बजे की है। दोनों मृतक सहारनपुर के निवासी थे। कार में वे दोनों ही थे। वहीं, दोनों मृतकों की पहचान खुर्शीद 43 पुत्र राशिद और शहाबुद्दीन 33 पुत्र अब्दुल हाफिज के रूप में हुई है।
श्रीनगर से यूपी लौट रहे थे मृतक-

बताया जा रहा है कि दोनों मृतक पुराना इलेक्ट्रॉनिक सामान खरीदने का काम करते थे। इसके लिए वे उत्तराखंड आए थे। रविवार को भी वे दोनों श्रीनगर से सामान खरीदकर सहारनपुर के लिए निकलते थे।

जानकारी के अनुसार सुबह करीब पौने आठ बजे वह दोनों कार से श्रीनगर से ऋषिकेश की ओर जा रहे थे। तभी उनकी कार चिलांग डांग मोड़ पर अचानक अनियंत्रित हो गई जिससे कार करीब 150 मीटर गहरी खाई में गिर गई। नीचे नदी होने के कारण उनकी कार खाई से होते हुए नदी में समा गई, लेकिन वे दोनों छिटककर खाई की तरफ जा गिरे।

रस्सियों के सहारे शवों को निकाला-

स्थानीय लोगों ने जब खाई में कार गिरते देखा तो हादसे की सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस और एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और बचाव कार्य शुरू किया। लेकिन तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी। खाई गहरी होने के कारण एसडीआरएफ की टीम को शवों को निकलाने में भी काफी परेशानी उठानी पड़ी। तब रस्सियों के सहारे शवों को निकाला जा सका।

पुलिस ने मृतकों के परिजनों को सूचित कर दिया है। वहीं पंचनामा भरकर शवों को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवा दिया है। थानाप्रभारी महिपाल सिह रावत ने बताया कि कार नदी में होने के कारण अभी तक पता नहीं चल पाया है। कार की तलाश की जा रही है। कार मिलने पर परिजनों को सूचित कर दिया जाएगा।

 

 

Related posts

क्लिनिकल इस्टेब्लिशमेंट एक्ट की उठी पुरजोर मांग, उत्तराखंड क्रांति दल ने फूंका बिगुल

Trinath Mishra

यूपीः गाजियाबाद के कविनगर में अाईपीएस संजीव त्यागी के पिता की गोलीमार कर हत्या

kumari ashu

विमान से भी तेज चलने वाली इस ट्रेन का पहले ही दिन लोगों ने किया ये हाल

Srishti vishwakarma