f9866383 dd03 4fa3 bc88 54129d284a8c डिबेट में कादरी से बोले रिजवी- हिंदू लड़की ही क्यों बनती है मुस्लिम, प्यार तो दोनों तरफ से होता है
फाइल फोटो

नई दिल्ली। देश में आए दिन कहीं न कहीं से लव जिहाद का मामला सामने आता ही रहता है। जिसको लेकर राज्य सरकारों द्वारा कानून बनाने की प्रक्रिया तेज हो गई है। मध्य प्रदेश में लव जिहाद को लेकर ​कानून बन चुका है। वहीं उत्तर प्रदेश में कानून का मसौदा कानून मंत्रालय को भेज दिया गया है। इसी बीच लव जिहाद के मुद्दे पर रिपब्लिक भारत के डिबेट शो महाभारत में उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी ने मौलाना सईद-उल-कादरी से जमकर सवाल पूछे। उन्होंने कादरी से पूछा- लड़कियों का शोषण हो रहा है। नाम बदलकर और पहचान छिपाकर लोग हिंदू लड़कियों से शादी कर रहे हैं। तो इस कानून के बनने पर आपको क्या दिक्कत है।

कानून को लेकर रिजवी ने कादरी से किए कई सवाल-

बता दें ​कि रिपब्लिक भारत के डिबेट शो महाभारत में उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी ने मौलाना सईद-उल-कादरी से जमकर सवाल पूछे। उन्होंने कादरी से पूछा- लड़कियों का शोषण हो रहा है। नाम बदलकर और पहचान छिपाकर लोग हिंदू लड़कियों से शादी कर रहे हैं। लड़कियों को मजबूर किया जाता है। अगर नहीं मानती हैं तो उनकी हत्या कर दी जाती है। अगर यह कानून बनता है तो आपको क्या दिक्कत है। जो कानून के दायरे में आएगा वहीं तो जबावदेह होगा। बीते कुछ दिनों पहले इसी कार्यक्रम में एक एंकर ने भी इस बात पर जोर दिया था कि ये कानून अधर्म के खिलाफ है। इसी बीच रिजवी ने कादरी से एक ओर सवाल पूछ लिया। उन्होंने कहा कि बहुत से लोगों ने हिंदू लड़कियों से शादी करके उन्हें मुसलमान बना लिया। आप एक तो उदाहरण दीजिए। मोहब्बत दोनों तरफ से है तो फिर केवल हिंदू लड़की को ही मुसलमान क्यों बनना पड़ता है।

जानें कादरी ने रिजवी की बात पर क्या कहा-

कादरी इस पर बोले- केंद्रीय एजेंसियों के पास ऐसी कोई शिकायत नहीं है। सुप्रीम कोर्ट कहता है कि ऐसा कोई मामला नहीं है। केरल हाईकोर्ट कहता है कि वहां पर लव जिहाद है ही नहीं। एग्जिस्ट ही नहीं करतां आप क्या बात कर रहे है, कहां से आपको ये जानकारी मिल गई। उनके इसी सवाल पर एंकर सुचरिता कुकरेती ने टोका और कहा कि इलाहाबाद हाईकोर्ट भी कहता है कि शादी के लिए धर्म परिवर्तन करने की जरूरत नहीं है।

Trinath Mishra
Trinath Mishra is Sub-Editor of www.bharatkhabar.com and have working experience of more than 5 Years in Media. He is a Journalist that covers National news stories and big events also.

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दी लोगों को 22 हजार अस्पतालों में इलाज कराने की सौगात, 5 लाख तक होगा निश्शुल्क

Previous article

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा, आयुष्मान योजना में देश के 22 हजार अस्पतालों में करा सकेंगे निशुल्क इलाज

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.