करारी हार के बाद भभुआ में खिला कमल-दर्ज की जीत

करारी हार के बाद भभुआ में खिला कमल-दर्ज की जीत

नई दिल्ली। बिहार में विधानसभा की दो सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजे आ चुके हैं और नतीजो के साथ ही सियासत एक बार फिर गर्मा गई हैं जहां यूपी में गोरखपुर और फूलपुर से करारी हार के बाद जहां बीजेपी को कड़ा झटका लगा हैं तो वहीं दूसरी ओर बिहार के  भभुआ विधानसभा सीट से बीजेपी के लिए अच्छी खबर आई सामने आई है जहां बीजेपी ने कॉग्रेस को हार का सामना कराते हुए अपनी जीत दर्ज की हैं बिहार की भभुआ सीट से बीजेपी ने रिंकी रानी पांडे को उम्मीदवार के रुप में खड़ा किया था जिसपर  बीजेपी उम्मीदवार रिंकी रानी पांडे ने जीत दर्ज की है। आपको बता दे कि बीजेपी उम्मीदवार रिंकी रानी पांडे ने कांग्रेस उम्मीदवार शंभू सिंह पटेल को करारी शिकस्त दी हैं।  रिंकी रानी पांडे ने 15 हजार मतों से जीत दर्ज करते हुए भभुआ में कमल खिला दिया हैं  वहीं जहानाबाद विधानसभा सीट पर बीजेपी को हार का सामना करना पड़ा हैं आपको बता दे कि  जहानाबाद विधानसभा सीट पर आरजेडी ने कब्जा किया है। इस सीट से आरजेडी प्रत्याशी कुमार कृष्ण मोहन उर्फ सुदय यादव ने बीजेपी प्रत्याशी अभीराम शर्मा को 35036 मतों से हराते हुए अपनी जीत दर्ज की.

जहानाबाद में आरजेडी की जीत
जहानाबाद में 6वें राउंड के बाद आरजेडी के कुमार कृष्ण मोहन यादव ने 35 हजार मतों से जीत दर्ज की है।

बिहार की भभुआ और जहानाबाद विधानसभा सीटों के लिए 11 मार्च को कराये गए उपचुनाव में क्रमश: 54.03 फीसदी तथा 50.06 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था. जहानाबाद और भभुआ के मौजूदा विधायकों के निधन के बाद यहां उपचुनाव कराया गया था।

जहानाबाद सीट पर राजद का कब्जा था और यहां से दिवंगत विधायक मुंद्रिका यादव के बेटे कृष्ण मोहन राजद के टिकट पर मैदान में हैं, जबकि भभुआ से भाजपा ने दिवंगत विधायक आनंद भूषण पांडे की पत्नी रिंकी रानी को मैदान में उतारा है। हालाकिं इस चुनाव से विपक्ष  बीजेपी को आड़े हाथों लेते हुए मोदी और योगी का जादू फैल बता रहा हैं और इस जीत का पूरा श्रेय गंठबंधन को दिया जा रहा हैं हालाकिं यें सरकार का कहना हैं कि वो इस हार पर मंथन करेगें और यें भी देखने की कोशिश करेगें कि कहा पर कमी रह गई