यूपी में कल से शुरु होगा आवासीय स्कूलों का पठन-पाठन

यूपी- उत्तर प्रदेश के आवासीय स्कूल अब जरूरी दिशा-निर्देशों के साथ फिर खुलने जा रहे हैं। कोरोना के बाद शिक्षा व्यवस्था पर बड़ा प्रभाव पड़ा, लेकिन अब वैक्सीन आने के बाद स्थिति सामान्य होने लगी है। इसी क्रम में प्रदेश के कई आवासीय स्कूल अब खुलने जा रहे हैं। प्रदेश सरकार में मंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने कहा कि जरूरी दिशा-निर्देशों के साथ 9-12 की पढ़ाई शुरू की जायेगी।

पहले होगा स्कूलों का सैनेटाइजेशन
सभी स्कूल पहले सैनेटाइज किए जायेंगे, इसके बाद ही छात्रों का प्रवेश सुनिश्चित किया जायेगा। साथ ही मास्क लगाना अनिवार्य किया जा रहा है। किसी भी तरह की लापरवाही से बचने की नसीहत भी दी गई है। प्रदेश के सभी आवासीय स्कूल जिनमें जवाहर नवोदय विद्यालय, सैनिक स्कूल, राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय एवं अन्य स्कूल शामिल हैं। इन सभी स्कूलों में 9 फरवरी से शिक्षण कार्य फिर से शुरु होगा।

किसी भी छात्र के संक्रमित होने पर इलाज की व्यवस्था की जायेगी, इसके लिए सभी विभागों को मुस्तैदी से तैनात रहने के आदेश हैं। मास्क लगाना शिक्षक-छात्र के साथ- साथ अन्य सभी के लिए आवश्यक होगा।

बोर्ड परीक्षाओं को ध्यान में रखते हुए लिया गया निर्णय
बोर्ड परीक्षा की डेटसीट आने के साथ ही हलचल मचनी शुरु हो गयी। छात्रों की पढ़ाई और परिणाम बाधित न हो, इसीलिए यह आवश्यक था कि दोबारा बच्चों को स्कूल भेजा जाए। वहीं कोरोना की गंभीरता को देखते हुए, मास्क, सैनेटाइजर, थर्मल-स्कैनिंग और हैंडवॉश जैसी सुविधाओं को अनिवार्य कर दिया गया है। सीबीएसई बोर्ड की 10वीं की परीक्षा 4 मई से 7 जून के बीच होनी है। वहीं 12वीं की परीक्षा 11 जून तक चलेगी। परीक्षा परिणाम 15 जुलाई को आ सकता है।

कांग्रेस नेता अजय राय का आरोप, दुर्दांत अपराधी मुख्तार अंसारी से जान का खतरा

Previous article

कॉलेजों में पढ़ रहे युवाओं को नौकरी देंगी चीनी मिलें, आपको भी मिल सकता है मौका, जानिए कैसे

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.