September 18, 2021 7:12 am
featured धर्म

कल सावन का पहला सोमवार, जानें क्या कुछ खास हो रही है इन प्रसिद्ध मंदिरों में तैयारी

lord shiva sawan mah कल सावन का पहला सोमवार, जानें क्या कुछ खास हो रही है इन प्रसिद्ध मंदिरों में तैयारी

सावन मास का शुभारम्भ आज यानि 25 जुलाई से हो गया है। वहीं कल सावन मास का पहला सोमवार है। इस महीने भगवान शिव के दर्शन पूजन की सनातन परम्परा है। पहले सोमवार पर श्रद्धालु व्रत रखते हैं। और मंदिरों में भगवान भोलेनाथ को जलाभिषेक किया जाता है।

Sawan Month 2021: महादेव को प्रसन्न करने का इससे आसान नहीं है उपाय, जानिए शिवरात्रि पूजन विधि

कई मंदिरों में RTPCR जांच रिपोर्ट जरूरी

सावन मास के चलते सभी प्रसिद्ध शिव मंदिरों की साफ सफाई कर विशेष तैयार कर ली गई है। बता दें सभी मंदिरों पर कोविड नियमों का पालन कराते दर्शन पूजन कराया जाएगा। वहीं जलालपुर के त्रिलोचन महादेव में तो RTPCR जांच रिपोर्ट देखकर ही मंदिर में प्रवेश होगा।

sawan 2 कल सावन का पहला सोमवार, जानें क्या कुछ खास हो रही है इन प्रसिद्ध मंदिरों में तैयारी

कोविड प्रोटोकॉल संबंधी भी तैयारी

वहीं पूर्वांचल का प्रसिद्ध तीर्थस्थल बाबा तामेश्वरनाथ धाम प्राचीन शिव मंदिर की महिमा भी अपरंपार है। श्रावण मास में यहां दूर दराज से शिवभक्त आकर जलाभिषेक और रूद्राभिषेक कराते हैं। यहां जलाभिषेक के पश्चात मां पार्वती का पूजन फलदायी होता है। जिसके तहत मंदिरों में पूरी साफ सफाई से लेकर कोविड प्रोटोकॉल संबंधी तैयारी कर ली गई है।

sawan कल सावन का पहला सोमवार, जानें क्या कुछ खास हो रही है इन प्रसिद्ध मंदिरों में तैयारी

इन प्रसिद्ध मंदिरों में भी हुई तैयारी

इसी के साथ केदारनाथ मंदिर, लिंगराज मंदिर, अमरनाथ गुफा, घृष्णेश्वर महादेव मंदिर, महाकालेश्वर मंदिर, वैद्यना मंदिर, भीमाशंकर ज्योतिर्लिंग, त्र्यम्बकेश्वर ज्योतिर्लिंग, मुरुदेश्वर शिव मंदिर आदि में भी साफ सफाई से लेकर सभी तैयारियां कर ली गई हैं।

25 जुलाई से शुरू हो रहा है भोले की भक्ति का महीना, जानिए सावन के खास त्यौहार

नहीं निकाली जाएगी कांवड यात्रा

बता दें कि इस साल कोरोना महामारी को देखते कांवड यात्रा नहीं निकाली जाएगी। फिर भी शिव भक्त दर्शन पूजन को मंदिरों में जाएंगे। श्रद्धालुओं को कोई असुविधा न हो, इसके मद्देनजर सभी मंदिरों पर साफ सफाई व्यवस्था सुचारु रूप से कर ली गई है।

Related posts

एनकाउंटर के बाद भी ऑनलाइन है श्रीप्रकाश शुक्ला

Shailendra Singh

छत्तीसगढ़ में फिर बढ़ा ब्लैक फंगस का खतरा, 400 मरीजों में से 40 की मौत

pratiyush chaubey

जानिए: शरद यादव के बाद कौन दो सदस्य होंगे राज्यसभा की सीट के दावेदार

Rani Naqvi