featured देश

डीयू में नये सत्र में रैगिंग को लेकर सख्त हुआ प्रशासन

regulation, rigging, session, du, university, admission, new session

नई दिल्ली। दिल्ली विश्वविद्यालय में नए सत्र की पढ़ाई 20 जुलाई से शुरू होगी। इसको लेकर रैगिंग के खिलाफ कड़े कदम उठाए गए हैं। डीयू प्रशासन ने स्पष्ट किया है कि यदि छात्र-छात्रा रैगिंग करते पाए गए तो उनका दाखिला रद्द कर दिया जाएगा।

regulation, rigging, session, du, university, admission, new session
University of Delhi

दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) में शुक्रवार को हुई प्रॉक्टोरियल बोर्ड की बैठक में नये प्रवेश सत्र 2017-18 में छात्रों को कैसे ज्यादा से ज्यादा सुविधियायें दी जायें, इसके लिए बैठक की गई। बैठक में दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी, डीटीसी के अधिकारी और डीयू के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे। बैठक में कॉलेज परिसरों में अनुसाशन बनाये रखने से जुड़े और रैंगिग के खिलाफ कड़ी कर्रवाई के अलावा छात्र छात्रों के हितों से जुड़े कई अहम कई महत्वपूर्ण निर्णय लिये गये।

विश्वविद्यालय ने एंटी रैगिंग हेल्पलाइन 1800-1805522 जारी किया है। इसके आलावा उत्तरी परिसर के छात्र (011-27667221) पर व दक्षिण परिसर के छात्र (011-24119832) पर रैगिंग की शिकायत कर सकते हैं। रैगिंग की घटना होने पर कॉलेजों को इसकी सूचना डीयू व यूजीसी को भी देनी होगी। दरअसल, रैगिंग रोकने के लिए यूजीसी ने सख्त गाइडलाइंस बनाई है।

इसके तहत डीयू ने कॉलेज प्रिंसिपल को सत्र के पहले तीन माह तक साप्ताहिक रिपोर्ट कर प्रॉक्टर ऑफिस भेजने के निर्देश दिए हैं। रैगिंग के मामलों को मॉनिटर करने के लिए मोबाइल पेट्रोलिंग होती रहेगी। साथ में बैठक में इस बात पर भी जोर दिया गया कि फैकल्टी और कॉलेज प्रशासन के बीच एक समन्वय बना रहना चाहिये जिससे वहां किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना घटित न हो और अगर ऐसा कुछ भी होता है तो उस पर कड़ी कार्रवाई की जाये।

डीयू के रजिस्ट्रार ने कहा कि डीयू के प्रोटोकॉल बोर्ड की एक बैठक में आकादमिक सत्र की शुरुआत के साथ छात्रों के प्रवेश को सुगम बनाने के विभिन्न उपायों पर चर्चा की गई। हमने विश्वविद्यालय के विभिन्न कालेजों में रैगिंग की रोकथाम और अनुशासन बनाए रखने के लिए दिल्ली पुलिस और डीटीसी को साथ लिया है। इतना ही नहीं डीटीसी बसों में भी एंटी रैगिंग हेल्पलाइन नंबर लगाए जाएंगे। संवेदनशील जगहों पर सीसीटीवी कैमरे से नजर रखी जाएगी। रैगिंग की घटना में पकड़े जाने पर छात्र को निलंबित या निष्कासित कर दिया जाएगा।

साथ ही किसी भी स्थिती में छात्रों के लिए शिकायत पेटी की व्यवस्था, 24 घंटे एंटी रैगिंग हेल्पलाइन नंबर- डीयू इन्फॉर्मेशन सेंटर के नंबरों 155215, 27006900 की व्यवस्था की गई है।

Related posts

फील्ड मार्शल मानेकशॉ आज भी हमारे राष्ट्रीय नायक: राष्ट्रपति

Rani Naqvi

चाबहार परियोजना को रुहनी ने दिखाई हरी झंड़ी, भारत के लिए बहुत खास है ये परियोजना

Breaking News

जम्मू-कश्मीर: डीजीपी डॉ. एसपी वैद पद से हटाए गए, दिलबाग सिंह को मिला चार्ज

rituraj