September 18, 2021 3:56 am
featured यूपी

योगी आदित्यनाथ से मिले रामदास अठावले,कहा हमारी पार्टी यूपी में लड़ेगी चुनाव

विधानसभा चुनाव लड़ेगी आरपीआई

लखनऊ। रिपब्लिकन पार्टी आफ इण्डिया के अध्यक्ष व केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री रामदास आठवले ने शनिवार को लोकभवन में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी रिपब्लिकन पार्टी आफ इंडिया उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा का चुनाव लड़ेगी।

रामदास अठावले ने कहा कि अन्य पिछड़ा वर्ग को आरक्षण देने का अधिकार देने के लिए केन्द्र सरकार जल्द ही एक संशोधन बिल लाने जा रही है। इसके बाद राज्यों में भी ओबीसी को आरक्षण देना आसान हो जायेगा। उन्होंने केन्द्र सरकार द्वारा मेडिकल परीक्षा में ओबीसी तथा गरीब सवर्ण को आरक्षण देने के फैसले का स्वागत किया है।

बहुजन कल्याण यात्रा निकालेगी आरपीआई
रामदास अठावले ने बताया कि रिपब्लिकन पार्टी आफ इंडिया आगामी 26 सितंबर से गाजियाबाद से बहुजन कल्याण यात्रा प्रारंभ करेगी। यह यात्रा प्रदेश के विभिन्न जनपदों से होते हुए 18 दिसंबर को लखनऊ में समापन होगा। लखनऊ में समापन दिवस पर बहुजन कल्याण महारैली होगी जिसमें करीब एक लाख लोग शामिल होंगे।

विधानसभा चुनाव लड़ेगी आरपीआई
रिपब्लिकन पार्टी आफ इंडिया उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव लड़ेगी। इसके लिए भाजपा से सीटों की भी मांग की गयी है। रामदास अठावले ने बताया कि हमारी पार्टी उत्तर प्रदेश में दस सीट पर विधानसभा चुनाव मैदान में उतरने की योजना बना चुकी है। उन्होंने कहा कि वो केंद्र में एनडीए के सहयोगी पार्टी हैं। अब वह उत्तर प्रदेश में दस सीट चाहती है, जहां से उसके प्रत्याशी चुनाव लड़ें। नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री आठवले ने कहा कि बसपा का दलित वोट अब आरपीआई का है। बसपा के ब्राह्मण सम्मेलन पर उन्होंने कहा कि ब्राह्मण भाजपा के साथ है। आरपीआई ही उत्तर प्रदेश में भाजपा को ब्राह्मण और दलित वोट दिलाएगी।
इससे पहले केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने लखनऊ के वीवीआईपी गेस्ट हाउस में अपनी पार्टी के नेताओं के साथ बैठक की। वह मौलाना कल्बे जवाद से उनके आवास पर मुलाकात करने गए।

Related posts

मोदी के नेतृत्व में सर्वश्रेष्ठ देंगे नए मंत्री : शाह

bharatkhabar

यूपी में सपा नेता के बेटे की करतूत सोशल मीडिया पर हुई वायरल

sushil kumar

आप के 20 विधायक अयोग्य घोषित, चुनाव आयोग ने राष्ट्रपति को भेजी रिपोर्ट

Rani Naqvi