featured देश राजस्थान

किसान आंदोलन पर राकेश टिकैत का बड़ा बयान, अब 40 लाख ट्रैक्टर घेरेंगे संसद, इंडिया गेट पर होगी खेती

tikait किसान आंदोलन पर राकेश टिकैत का बड़ा बयान, अब 40 लाख ट्रैक्टर घेरेंगे संसद, इंडिया गेट पर होगी खेती

नई दिल्‍ली: किसान नेता राकेश टिकैत ने किसान आंदोलन पर एक बार फिर बड़ा बयान दिया है। दरअसल टिकैत ऐलान करते हुए कहा कि इस बार किसान चालीस लाख से ज्यादा ट्रैक्टरों में आएंगे और संसद का घेराव करेंगे। इतना ही नहीं टिकैत ने किसानों से दिल्ली मार्च के लिए तैयार रहने की अपील की है। राकेश टिकैत ने यह बयान राजस्थान के सीकर में संयुक्त किसान मोर्चा की किसान महापंचायत को संबोधित करने के दौरान दिया।

टिकैत ने मंगलवार को ही संसद के घेराव करने की कही थी बात

बता दें कि राकेश टिकैत ने मंगलवार को यह साफ कर दिया था कि अगर अब भी केंद्र सरकार ने कृषि कानूनों को वापस नहीं लिया तो इस बार किसान संसद का घेराव करेंगे। इतना ही नहीं इस बार चार लाख नहीं बल्कि चालीस लाख ट्रैक्टर आएंगे। आगे टिकैत ने किसानों से तैयार रहने की भी दरख्वास्त की है और कहा कि कभी भी दिल्ली जाने का आह्वान हो सकता है।

संसद घेराव के बाद इंडिया गेट पर होगी खेती

राकेश टिकैत ने अपने तल्ख तेवर के साथ यहां तक कह दिया कि,’कान खुल कर सुन ले दिल्ली, ये किसान भी वही हैं और ट्रैक्टर भी वही होंगे। अबकी बार आह्वान संसद का होगा। इस बार चार लाख नहीं चालीस लाख ट्रैक्टर जाएंगे। इतना ही नहीं अब किसान इंडिया गेट के पास के पार्कों में जुताई करेगा और फसल भी उगाएगा। आगे संसद को घेरने के लिए तारीख संयुक्त मोर्चा तय करेगा।

26 जनवरी की घटना किसानों को बदनाम करने के लिए रची गई

26 जनवरी की घटना पर जवाब देते हुए राकेश टिकैत ने कहा कि, ’26 जनवरी की घटना के मामले में देश के किसानों को बदनाम करने की साजिश रची गई है। इस देश के किसानों को अपने मातृभूमि व अपने तिरंगे से बेहद प्यार है, लेकिन इस देश राजनेताओं को नहीं है। टिकैत ने कहा कि किसानों की ओर से सरकार को खुली चुनौती है कि अगर सरकार ने तीनों कृषि कानून वापस नहीं लिए और एमएसपी लागू नहीं की तो बड़ी-बड़ी कंपनियों के गोदाम को ध्वस्त करने का काम भी देश का किसान करेगा। इसके लिए भी संयुक्त मोर्चा जल्द तारीख भी बताएगा।

महापंचायत में ये नेता रहे मौजूद

बता दें कि राजस्थान के सीकर में संयुक्त किसान मोर्चा की किसान महापंचायत में स्वराज आंदोलन के नेता योगेंद्र यादव, अखिल भारतीय किसान सभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमराराम, किसान यूनियन के राष्ट्रीय महामंत्री चौधरी युद्धवीर सिंह सहित कई किसान नेता रहे मौजूद। गौरतलब है कि सीकर से पहले टिकैत ने चूरू जिले के सरदारशहर में भी किसानों की सभा को संबोधित किया है।

 

 

Related posts

रेलवे ने खत्‍म किया ट्रेनों का ‘विशेष’ टैग, फिर से पुराने किराए पर चलेंगी 1700 ट्रेन

Rahul

धारा 370 के प्रावधानों को खत्म करने की घोषणा, राष्ट्रपति ने कहा सिर्फ खंड 1 लागू

bharatkhabar

बाबा केदारनाथ से मिलने वाली दिव्य ऊर्जा से होगा न्यू इंडिया का निर्माण: पीएम मोदी

piyush shukla