राजस्थान चुनाव-कॉग्रेस के बड़े नेता लड़ना चाहते हैं चुनाव

नई दिल्ली। राजस्थान में आगामी विधानसभा चुनाव का मुद्दा गरमाने लगा हैं और हर किसी ने इसे लेकर तैयारियां तेज कर दी हैं। ऐसे में कांग्रेस के अधिकांश बड़े नेता आगामी विधानसभा चुनाव लड़ना चाहते हैं ।विधानसभा चुनाव लड़कर ये सभी नेता स्वयं को मुख्यमंत्री पद की दौड़ में शामिल कराना चाहते हैं ।

ये नेता अपने पंसददीदा विधानसभा क्षेत्रों मे सक्रिय भी हो गए हैं । इन नेताओं के समर्थक चुनाव अभियान में जुट गए हैं । पिछले माह अलवर एवं अजमेर संसदीय एवं मांडगलढ़ विधानसभा क्षेत्र के बाद पंचायत और स्थानीय निकाय के उप चुनाव में कांग्रेस को मिली सफलता से उत्साहित कांग्रेस के नेताओं को पक्की उम्मीद है कि विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को बहुमत मिलेगा और वे सत्ता के शीर्ष तक पहुंच सकते हैं । प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट का विधानसभा चुनाव लड़ना पहले से तय माना जा रहा था ।

लेकिन अब पूर्व केन्द्रीय मंत्री भंवर जितेन्द्र सिंह ने अलवर शहर,पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ.गिरिजा व्यास ने मावली,पूर्व केन्द्रीय मंत्री नमोनारायण मीणा देवली-उनियारा,पूर्व केन्द्रीय मंत्री लालचंद कटारिया ने आमेर और पूर्व केन्द्रीय मंत्री महादेव सिंह खंडेला ने विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने की तैयारियां शुरू कर दी हैं । ये सभी नेता अपने-अपने क्षेत्रों में सक्रिय हो गए इनमें डॉ.गिरिजा व्यास ब्राहम्ण चेहरे के रूप में और भंवर जितेन्द्र सिंह राजपूत नेता के रूप में मुख्यमंत्री पद की दावेदारी जताने की कसरत में अभी से जुट गए हैं ।

हालांकि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष होने के कारण सचिन पायलट को इस पर का स्वभाविक दावेदार माना जा रहा है । पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत वर्तमान में सरदारपुरा से विधायक है,वे भी खुद को सीएम पद की दौड़ में कायम रखने के प्रयास में जुटे हैं ।कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव डॉ.सी.पी.जोशी अपने पुत्र को नाथद्वारा सीट से चुनाव लड़ाना चाहते हैं । पूर्व सांसद महेश जोशी,रघुवीर मीणा,खिलाड़ी लाल बैरवा,ज्योति मिर्धा,बद्री जाखड़,शंकर पन्नू,अश्क अली टांक,नरेन्द्र बुड़ानिया भी विधानसभा चुनाव लड़ना चाहते हैं । इनमें जोशी किशनपोल,टांक फतेहपुर,मीणा उदयपुर ग्रामीण, मिर्धा नागौर,शंकर पन्नू श्रीगंगानगर,बुडानिया चुरू विधानसभा सीट से चुनाव लड़ना चाहते हैं । अब देखना यें होगा कि कौन इस दौड़ मे ंबना रहता हैं और कौन इस दौड़ से बाहर हो जाता हैं।