राजस्थान की बीजेपी सरकार हैं लाचार

नई दिल्ली।  राजस्थान में आगमी विधानसभा चुनाव को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं। और आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला शुरू हो गया हैं। और इसी बीच राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष एवं सांसद डॉ. रघु शर्मा की ओर से बीजेपी पर निशाना साधा गया हैं। कांग्रेस कमेटी की उपाध्यक्ष ने कहा कि राजस्थान में उपचुनाव में भारी मतों से पराजित होने के बाद राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने 15 दिन पहले अपने मंत्रियों एवं विधायकों को सरकार का डैमेज कंट्रोल करने के लिए क्षेत्र का व्यापक दौरा करने की रणनीति बनाई थी, जिसके तहत पहले विधायक, फिर मंत्री और उनके बाद मुख्यमंत्री के जाने का निर्णय हुआ था।

सांसद शर्मा ने बयान जारी कर बताया कि सरकार के विधायक एवं मंत्री क्षेत्र में जनता के बीच जाने का साहस नहीं जुटा पा रहे हैं। सरकार के मंत्री एवं विधायक बेबस और लाचार नजर आ रहे हैं, उनके पास कोई बड़ी उपलब्धि नहीं है जो कि वे जनता को बता सकें। अजमेर में मंत्री नालियों-सड़कों के उद्घाटन एवं शिलान्यास कर विकास का दावा कर रहे हैं, जो कि नगर निकाय के एवं पार्षद स्तर के कार्य हैं। पानी, बिजली, सड़क एवं नाली जैसी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाना सरकार की नैतिक जिम्मेदारी है।

पार्षद स्तर के कार्य के शिलान्यास कर मंत्री स्तर के जनप्रतिनिधि वाहवाही लूट रहे हैं, जो कि दुर्भाग्यपूर्ण, हास्यास्पद और लोकतांत्रिक मूल्यों के विपरीत है। अजमेर देहात कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह राठौड़, सरवाड़ पंचायत समिति के सदस्य शक्ति प्रताप सिंह राठौड़, अजमेर शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष विजय जैन, महासचिव शिवकुमार बंसल, युवा कांग्रेस राजस्थान के प्रदेश सचिव अतीक तंवर ने बताया कि केंद्र एवं राजस्थान की भाजपा सरकार के विकास के दावे झूठे हैं।

आगामी चुनाव में भाजपा सरकार की विफलता, नाकामियां, जुमलेबाजी, घोटाले, दलित महिलाओं पर बढ़ते अत्याचार के बारे में कांग्रेसी कार्यकर्ता घर-घर जाकर भाजपा की पोल खोलेंगे।बता दे कि बीजेपी की ओऱ से भी कांग्रेस के खिलाफ उपवास रखा गया था। जिसमें राजस्थान की अलग अलग जगहों पर उपवास कर दलित हिंसा का विरोध किया गया था।