September 25, 2021 12:49 pm
featured देश

राजनाथ ने बिना नाम लिए बोला पाकिस्तान और चीन पर हमला, कहां हमारी सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब

rajnath singh राजनाथ ने बिना नाम लिए बोला पाकिस्तान और चीन पर हमला, कहां हमारी सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब

राजनाथ सिंह ने चीन को मुंहतोड़ जवाब देने पर भारतीय सेना की पीठ थपथपाई और चीन का नाम लिए बिना ही राजनाथ ने कहा कि अग्रिम ठिकानों पर युद्ध की तैयारियों

नई दिल्ली। राजनाथ सिंह ने चीन को मुंहतोड़ जवाब देने पर भारतीय सेना की पीठ थपथपाई और चीन का नाम लिए बिना ही राजनाथ ने कहा कि अग्रिम ठिकानों पर युद्ध की तैयारियों के लेकर जो भी फुर्ती दिखाई है उससे विरोधियों को कड़ा संदेश मिला है। राजनाथ ने कहा कि चीन ने पूर्वी लद्दाख में एलएसी को बदलने की कोशिश की है। लेकिन भारतीय सेना वायुसेना ने अपने प्रतिक्रिया दिखाते हुए मंसूबों को नाकाम कर दिया।  राजनाथ ने चीन को ये बात ऐसे वक्त पर याद दिलाई है जब भारत में राफेल की पहली खपथ पहुंचने वाली है और उसे पूर्वी लद्दाख में तैनात किया जा सकता है।

बता दें कि राजनाथ सिंह ने सेना की तारीफ करते हुए कहा कि पाकिस्तान के बालाकोट में भी उसके साहसिक ऑपरेशन का जिक्र किया। राजनाथ ने कहा कि बालाकोट में वायुसेना के हमले और मौजूदा युद्धक तैयारियों ने विरोधियों (पाकिस्तान और चीन) को कड़ा संदेश दिया है। उन्होंने भारतीय वायुसेना के शीर्ष कमांडरों के तीन दिवसीय सम्मेलन को पहले दिन संबोधित करते हुए कहा कि अपनी संप्रभुता की रक्षा के लिए राष्ट्र का संकल्प अडिग है और देश के लोगों को अपनी सशस्त्र सेनाओं की क्षमताओं पर पूरा भरोसा है।

वहीं रक्षा मंत्री ने उस ‘पेशेवर अंदाज’ के बारे में भी बात की जिससे वायुसेना ने पिछले साल पाकिस्तान के बालाकोट में हवाई हमला किया था। उन्होंने बीते कुछ महीनों में परिचालन क्षमताओं को बढ़ाने में वायुसेना की सक्रिय प्रतिक्रिया की सराहना की। रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘उन्होंने (राजनाथ ने) कहा कि जिस पेशेवर तरीके से वायुसेना ने बालाकोट में हवाई हमला किया और पूर्वी लद्दाख की मौजूदा स्थिति के मद्देनजर अग्रिम ठिकानों पर वायुसेना के संसाधनों की त्वरित तैनाती की गई उससे विरोधियों को कड़ा संदेश गया।’ उन्होंने कहा कि अपनी संप्रभुता की रक्षा के लिए राष्ट्र का दृढ़ संकल्प लोगों का अपनी सशस्त्र सेनाओं की क्षमताओं पर पूरा भरोसा होने से अडिग है।

https://www.bharatkhabar.com/priyanka-chopra-pregnancy-rumours/

सम्मेलन में राफेल लड़ाकू विमानों की तैनाती पर होगी बात

मंत्रालय ने कहा कि रक्षा मंत्री ने कमांडरों को आश्वस्त किया कि सशस्त्र बलों की सभी आवश्यकताएं, चाहे वित्तीय हों या किसी अन्य तरह की, पूरी की जाएंगी। सम्मेलन में भारतीय वायुसेना के कमांडर देश की वायु रक्षा प्रणाली की गहन समीक्षा करेंगे जिसमें राफेल लड़ाकू विमानों के पहले जत्थे की लद्दाख क्षेत्र में तैनाती भी शामिल है।

 

Related posts

भारत-चीनी सेनाओं ने जन्मू-कश्मीर में पहली बार किया ज्वाइंट सैन्य अभ्यास

shipra saxena

बंगाल: बर्धमान की रैली में बोले पीएम मोदी, खेला करने वालों के साथ खेला हो गया

pratiyush chaubey

गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस में घुसा संदिग्ध, लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े होने की आशंका

Breaking News