राजेश शुक्ला को कैबिनेट मंत्री बनाने की मांग

देहरादून। उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री का चुनाव होने के बाद अब राजेश शुक्ला को कैबिनेट मंत्री बनाने की मांग तेज हो रही है। राजेश का नाम इसलिए भी आगे आ रहा है क्योंकि उन्होंने प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को हरिद्वार ग्रामीण विधानसभा सीट से भारी वोटों से मात दी थी।

राजेश के कैबिनेट मंत्री की मांग उठने पर जानकारी देते हुए स्वामी यतीश्वरानंद समर्थकों ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री भुवनचंद्र खण्डूडी को हराने वाले कोटद्वार विधायक सुरेन्द्र सिंह नेगी को रावत कैबिनेट में स्वाथ्य मंत्री की जगह दी गई। अब इन्हीं हरीश रावत को इन दो युवा विधायकों ने अच्छ पटकनी दी है।

पूरे चुनाव में कुछ सीटों को छोड़ दिया जाए जिनमें देहरादून की धर्मपुर, पौड़ी की यमकेश्वर व चौबट्टाखाल, हरिद्वार ग्रामीण, उधमसिंह नगर की किच्छा विधानसभा प्रदेश की चर्चित सीटों में से थी। यह सभी सीटे भाजपा के महापौर विनोद चमोली, रितू खण्डूडी, धर्मगुरू सतपाल महाराज, स्वामी यतीश्वरानंद तथा जेश शुक्ल ने जीतकर कांग्रेस के दिग्गजों को पराजित किया है। ऐसे में आने वाली सरकार में इन लोगों को महत्वपूर्ण भूमिका मिले इसके लिए इन लोगों के समर्थक लांमबंद हो रहे है।

मोदी मंत्री और कांग्रेस की कुनीतियों एवं अपने कार्यो के बल जीते इन विधायकों के समर्थक चाहते हैं कि यह लोग सरकार में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी निभाए। वैसे भी प्रदेश की सबसे हॉट सीट बनी किच्छा विधानसभा जिस पर पूरे प्रदेश की नजरें टिकी थी वहां से भाजपा ने अपने विधायक राजेश शुक्ला पर ही दांव खेला तो विपक्षियों में खलबली मच गई और कोई अन्य विकल्प न होने के कारण कांग्रेस के मुखिया को टिकट ले कर आना पड़ा।

राजेश शुक्ला के जन समर्पण को जनता ने स्वीकार कर उनके विकास कार्यों से प्रभावित होकर उनके पक्ष में मतदान दिया और शुक्ला ने कांग्रेस के दिग्गज प्रत्याशी प्रदेश के मुख्यमंत्री हरीश रावत जैसे गद्दावर नेता को चारों खाने चित कर पुन: भाजपा का कमल खिला दिया। अब श्री शुक्ला को मंत्री बनाया जाना चाहिए यह मांग भाजपा मीडिया प्रभारी पवन दूबे ने की है।

उन्होंने कहा कि जिसके लिये पन्तनगर शिशु मन्दिर मेें मण्डल अध्यक्ष डीएन यादव की अध्यक्षता में आयोजित भाजपा बैठक में कहा कि मुख्यमंत्री के खिलाफ बिना भय के विधायक शुक्ला द्वारा दूसरी बार जीत हासिल करने पर भाजपा के प्रत्येक कार्यकर्ता व सभी क्षेत्रवासियों को उन पर हर्ष है। उन्होंने प्रदेश के साथ-साथ देश में भाजपा को गौरवान्वित भी किया है। बैठक के दौरान यह मांग उठी कि विधायक राजेश शुक्ला ने जिन परिस्थियों में भाजपा को जीत दिलाई है और प्रदेश में जब खरीद-फरोख्त हुई उस समय भी भाजपा के सच्चे सिपाही के रूप में जिस प्रकार वह साबित हुए हैं उसको ध्यान मे रखते हुए आलाकमान को प्रदेश सरकार में मंत्री पद देना चाहिए।

विधायक राजेश शुक्ला को प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाया जाये, चूंकि प्रदेश में भाजपा की सरकार आ रही है, जिसमें विधायक शुक्ला की महत्वपूर्ण भूमिका है जिसको अनदेखा नहीं किया जा सकता है। राजेश शुक्ला को कैबिनेट मंत्री बनाने के लिये केन्द्र एवं प्रदेश नेतृत्व से एक स्वंर में मागं की साथ ही विधानसभा चुनाव में हुई जीत के लिये क्षेत्र की जनता का आभार वक्त किया।