October 1, 2022 10:57 am
featured राजस्थान

राजस्थान सरकार ने तैयार किया कोरोना के इस खतरनाक रूप से लड़ने का खास प्लान 

अशोक गहलोत राजस्थान सरकार ने तैयार किया कोरोना के इस खतरनाक रूप से लड़ने का खास प्लान 

जयपुर। राजस्थान में पिछले 35 दिन में कोरोना वायरस से 3240 लोग संक्रमित हो चुके हैं। काेरोना से जंग में देश में सबसे पहले लॉकडाउन का ऐलान करने वाली राज्य की गहलोत सरकार अब कोविड-19 के नए रूप से लड़ने की तैयार में जुटी है। हम बात कर रहे हैं कोराना वायरस एसिम्टोमेटिक संक्रमण की। चिकित्सा विभाग के अनुसार इन दिनों लगभग 70 प्रतिशत पाॅजीटिव केसेज में या तो हल्के लक्षण या लक्षण ही नहीं पाए जा रहे हैं। यानी अब अगली बड़ी चुनौती ऐसे केसेज और इनसे संक्रमण फैलने से कोरोना वायरस का प्रकोप रोकना है।

इस चुनौती और अगले कुछ दिनों में कोरोना से जंग के लिए सरकार नई रणनीति बना रही है। शुरुआती प्लान तैयार है और इसके तहत अब जल्द ही प्रदेश के हर जिले में कोविड केयर सेंटर बनाए जाएंगे। इस बारे में विस्तृत गाइड लाइन तैयार की गई है और इसकी शुरुआत 30 हजार बैड से हो रही है। चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा की माने तो जल्द ही कोविड केयर सेंटर में बैडों की संख्या 50 हजार तक पहुंचाई जाएगी।

https://www.bharatkhabar.com/last-rites-performed-in-honor-of-colonel-ashutosh-sharma-and-major-anuj-sood-who-were-martyred-in-handwara-of-jk/

ये है गहलोत सरकार का एडवांस प्लान

चिकित्सा मंत्री डाॅ. रघु शर्मा ने बताया कि प्रदेश में कोविड संक्रमण के बचाव एवं रोकथाम के लिए उनकी सरकार ने एडवांस प्लानिंग पर काम करना शुरू कर दिया है। इसके तहत आने वाले दिनों में प्रदेश के सभी जिलों में आवश्यकता के अनुसार 500 या 1 हजार बैड की क्षमता वाले कोविड केयर सेंटर बनाए जाएंगे। जिलों में कोविड केयर सेंटर का चयन और प्रबंधन का जिम्‍मा संबंधित जिला कलक्‍टर को दिया गया है।

कोरोना केयर सेंटर पर ठंडा पानी, पंखे-कूलर और टेलीविजन भी

चिकित्सा विभाग के अनुसार यह कोविड सेंटर शहरी आबादी से दूर बनाए जाएंगे। वहां सभी आवश्यक सुविधाएं मसलन भोजन, बिजली, पानी, पंखे-कूलर, वाटर कूलर आदि की व्यवस्था भी की जाएगी ताकि मरीज को किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। साथी टर पर व्यक्तियों के प्रवेश और निकास के लिए एक ही एंट्री गेट रखा जाएगा, ताकि संपूर्ण व्यवस्था पर निगरानी रखी जा सके और संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। रोगियों को तनाव मुक्त करने के लिए टेलीविजन या म्यूजिक की भी व्यवस्था की जाएगी।

ऐसा होगा कोविड केयर सेंटर

सुरक्षा के लिहाज से कोविड केयर सेंटर की सीसीटीवी कैमरे से निगरानी रखी जाएगी। माइकिंग की भी व्यवस्था की जाएगी। इन सभी सेंटर्स पर चिकित्सक कक्ष, सैंपल कलेक्शन, दवा स्टोर, चिकित्सकों के चेंजिंग रूम (डाॅनिंग एंड डोफिंग रूम) की भी व्यवस्था की जाएगी ताकि मरीज को किसी परेशानी का सामना ना करना पड़े। ये सभी सेंटर पर विषय विशेषज्ञों से जरूरत पड़ने पर टेली कंसलटेंसी के जरिए भी इलाज किया जा सकेगा।

Related posts

हिंसक प्रदर्शन को लेकर डीजीपी ने एडीजी लॉ एण्ड आर्डर को किया तलब

Rani Naqvi

KRK ने फिर किया विवादित ट्वीट, ‘राम रहीम ने 50वें जन्मदिन पर बुलाया था अपने पास’

Pradeep sharma

जम्मू कश्मीर: हड़ताल पर गए बिजली कर्मचारियों के साथ बातचीत विफल, डिविजन कमिश्नर ने सेना की मांगी मदद

Rahul