राजस्थानः निर्वाचन आयुक्त ने राज्य में विधानसभा चुनाव-2018 की तैयारियों की समीक्षा की

राजस्थानः भारत निर्वाचन आयोग के आयुक्त सुनील अरोड़ा ने शनिवार को राज्य में विधानसभा चुनाव-2018 की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने प्रदेश के उच्चाधिकारियों और निर्वाचन विभाग के अधिकारियों के साथ अलग-अलग बैठक में चुनाव तैयारियों की विस्तृत जानकारी ली। राज्य में स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्ण मतदान सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर भारत निर्वाचन आयोग के उपायुक्त संदीप सक्सेना भी मौजूद रहे।

 

राजस्थानः निर्वाचन आयुक्त ने राज्य में विधानसभा चुनाव-2018 की तैयारियों की समीक्षा की
राजस्थानः निर्वाचन आयुक्त ने राज्य में विधानसभा चुनाव-2018 की तैयारियों की समीक्षा की

इसे भी पढ़ेःनिर्वाचन आयोग ने अखिलेश सरकार को दिया झटका!

चुनाव आयुक्त अरोड़ा ने विधानसभा चुनाव कार्यों की समीक्षा राज्य के उच्च अधिकारियों के साथ की। उन्होंने चुनाव के दौरान मतदाता सूचियों के संधारण एवं विभिन्न व्यवस्थाओं जैसे सुरक्षाबलों का नियोजन, चुनाव दलों एवं अन्य कार्यों के लिए पर्याप्त मानव संसाधन की व्यवस्था, चुनाव पर होने वाले खर्चों पर निगरानी, धन-बल के उपयोग को शक्ति से रोकने, शराब के परिवहन तथा अवैध वितरण पर कड़ी निगरानी रखते हुए समय पर ऎसी गतिविधियों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने केंद्रीय पुलिस बल को चुनाव के दौरान कैशलेस इलाज और राज्य सरकार द्वारा चिन्हित जगहों पर एयर एंबुलेस की व्यवस्था करने के भी निर्देश दिए।

मुख्य चुनाव अधिकारी आनंद कुमार ने बैठक के दौरान प्रदेश भर की तैयारियों का विस्तृत प्रजेंटेशन दिया। निर्वाचन विभाग द्वारा मतदाता सूचियों के संशोधन एवं विधानसभा चुनाव के लिए अब तक की गई तैयारियों की जानकारी प्रस्तुत की। उन्होंने बताया कि राज्य एवं जिला स्तर पर चुनाव की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। राज्य में संक्षिप्त पुनरीक्षण-2018 के तहत मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन 28 सितम्बर को कर दिया गया है।

आपको बता दें कि मतदाता सूचियों के अंतिम प्रकाशन के अनुसार राज्य में कुल 4 करोड़ 74 से अधिक मतदान करेंगे। मतदाता सूची में नाम जोड़ने का कार्य उम्मीदवारों द्वारा नामांकन दाखिल करने की अंतिम तारीख 19 नवंबर से 10 दिन पूर्व तक जारी रहेगा। गौरतलब है कि सूबे में कुल 51 हजार 796 मतदान केन्द्र हैं। मतदाताओं को शत-प्रतिशत फोटोयुक्त मतदाता पहचान पत्र उपलब्ध कराए गए है।

महेश कुमार यादव