November 27, 2022 2:06 am
featured राजस्थान राज्य

राजस्थानःकोटा का निरन्तर विकास ही हमारी कोशिश-मुख्यमंत्री

01 101 राजस्थानःकोटा का निरन्तर विकास ही हमारी कोशिश-मुख्यमंत्री

राजस्थानः मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने शुक्रवार को कोटा शहरवासियों को 54 करोड़ रूपये की लागत से बने उच्च स्तरीय पुल की सौगात दी। उन्होंने कोटा बैराज के समानान्तर बने करीब 1 किलोमीटर लम्बे इस पुल का मुख्यमंत्री निवास से बटन दबाकर लोकार्पण किया।राजे ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से कोटावासियों को सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि कोटा एक तेजी से बढ़ता हुआ शहर है और हमारी कोशिश है कि इसका विकास निरन्तर होता रहे। उन्होंने कहा कि यूआईटी कोटा द्वारा बनाए गए इस पुल के शुरू होने से यातायात का दबाव कम होगा। शहरवासियों को जाम की समस्या से निजात मिलेगी।

 

 राजस्थानःकोटा का निरन्तर विकास ही हमारी कोशिश-मुख्यमंत्री
राजस्थानःकोटा का निरन्तर विकास ही हमारी कोशिश-मुख्यमंत्री

इसे भी पढ़ेःमिलकर लिखेंगे राजस्थान के विकास का सुनहरा अध्याय-वसुन्धरा राजे

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोटा शहर में यूआईटी के माध्यम से करीब 307 करोड़ रूपये के विकास कार्य हो चुके हैं।और करीब 517 करोड़ रूपये के विकास कार्य प्रगति पर हैं। इस मौके पर उन्होंने कोटावासियों को नए पुल की बधाई दी।स्वायत्त शासन मंत्री श्रीचन्द कृपलानी ने कहा कि कोटा में चम्बल पुल, बैराज के सामानान्तर पुल, हैंगिंग ब्रिज, नोर्दन बाईपास जैसे ऎतिहासिक विकास कार्य पूरे हो चुके हैं। आने वाले समय में नोर्दन बाईपास, बूंदी एवं बारां रोड पर सीसी सडक के निर्माण सहित कई कार्य पूरे होंगे।

इसे भी पढ़ेः बच्चों के बीच सीएम वसुन्धरा राजे ने मनाया बाल दिवस

इस मौके पर अतिरिक्त मुख्य सचिव नगरीय विकास पीके गोयल भी मौजूद थे। कोटा में कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी, विधायक प्रहलाद गुंजल, कोटा महापौर महेश विजय, नगर विकास न्यास कोटा के अध्यक्ष आरके मेहता तथा जिला कलक्टर गौरव गोयल सहित तमाम जनप्रतिनिधिगण और अधिकारी मौजूद रहे.

महेश कुमार यदुवंशी

Related posts

नरेंद्र मोदी जी का लक्ष्य दो चार बड़े उद्योगपतियों के लिए पैसा बनाना- राहुल गांधी

Aman Sharma

गांधी जयंती कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह बोले- कृषि विधेयकों के पारित होने पर बहुत खुश होते महात्मा गांधी

Samar Khan

Petrol-Disel Price: फिर बढ़े तेल के दाम, दिल्ली समेत जानें अपने शहर का हाल ?

Saurabh