September 21, 2021 10:21 pm
featured राजस्थान

सीएम अशोक कहलोत के बड़े भाई के ठिकानों पर छापेमारी, सुरजेवाला ने किया पीएम मोदी पर हमला

cm ashok gahlot सीएम अशोक कहलोत के बड़े भाई के ठिकानों पर छापेमारी, सुरजेवाला ने किया पीएम मोदी पर हमला

सूत्रों के मुताबिक, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के भाई की संपत्ति पर प्रवर्तन निदेशालय ने उर्वरक निर्यात करने के आरोप में छापा मारा।

जयपुर। सूत्रों के मुताबिक, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के भाई की संपत्ति पर प्रवर्तन निदेशालय ने उर्वरक निर्यात करने के आरोप में छापा मारा। सूत्रों का कहना है कि प्रवर्तन निदेशालय ने इसी मामले में देशभर के कई हिस्सों में छापे मारी की। समाचार एजेंसी पीटीआई ने बताया कि राजस्थान, पश्चिम बंगाल, गुजरात और दिल्ली सहित 13 स्थानों पर केंद्रीय जांच एजेंसी द्वारा छापे मारे गए।

बता दें कि अशोक गहलोत सचिन पायलट और उनके प्रति वफ़ादार विधायकों द्वारा विद्रोह के बाद अपनी सरकार को बचाए रखने की कोशिश कर रहे हैं। 200 सदस्यीय राजस्थान विधानसभा में भाजपा के 76 विधायक हैं और सरकार बनाने के लिए पार्टी को कम से कम 25 और विधायकों के समर्थन की आवश्यकता होगी। लेकिन भाजपा अतिरिक्त 10 विधायकों को बागी विधायकों के रूप में देख रही है।

वहीं ईडी के सूत्रों के अनुसार, अग्रसेन गहलोत द्वारा संचालित कंपनी ने सब्सिडी वाले उर्वरक “पोटाश के मूरेट” या MoP को कंपनियों को बेच दिया था, और इस कंपनी को उस वक्त बेंचा गया था जब इस कंपनी के निर्यात पर प्रतिबंध लगा हुआ था। इंडियन पोटाश लिमिटेड MoP का अधिकृत आयातक है और किसानों को रियायती दरों पर रसायन वितरित किया जाता है।

https://www.bharatkhabar.com/cm-rawat-invited-google-ceo-to-write/

2007 और 2009 के बीच अग्रसेन गहलोत की फर्म अनुपम कृषि, जो कि भारतीय पोटाश लिमिटेड की अधिकृत डीलर करती थी, उसने रियायतों दरों पर MoP खरीदा और इसे किसानों को देने के बजाय, अन्य कंपनियों और कुछ अन्य लोगों को बेच दिया। जो उसके बदले में इसे मलेशिया भेज देते थे।

इसके बाद राजस्व खुफिया निदेशालय ने 2012-13 में इस कथित घोटाले का खुलासा किया था। अग्रसेन गहलोत ने तब रीति-रिवाजों के बारे में बताया था कि किसानों को इसे वितरित करने के लिए कुछ बिचौलिए जिन्होंने उनसे MoP खरीदा था, उन्होंने इसे निर्यात के लिए बेच दिया था।

कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने छापे के समय पर सवाल उठाया।

वहीं इस मामले में रणदीप सुरजेवाला ने पीएम मोदी पर हमला करते हुए कहा कि जब राजस्थान में कांग्रेस के खिलाफ केंद्र सरकार की चाले विफल हो गई तो मोदी सरकार ने छापेमारी शुरू कर दी और राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के भाई के ठिकानों पर छापे मरवाने शुरू कर दिए।

लेकिन हम इससे डरने वाले नहीं है। पीटीआई ने बताया कि इस मामले में सीबीआई ने सीएम के ओएसडी से भी पूछताछ की है और ईडी के छापे मरवाए।पीटीआई ने बताया कि ईडी अधिकारियों को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल या सीआरपीएफ कर्मियों द्वारा सहायता प्रदान की गई थी। उन अधिकारियों को जोधपुर में गहलोत के फार्महाउस और घर पर गार्ड के रूप में देखा गया था।

Related posts

बांदीपुरा में मारे गए आतंकियों के पास से 2000 के नए नोट बरामद

Rahul srivastava

खेलों को अनिवार्य बनाने के लिए राज्यवर्धन सिंह राठौड़ की पहल, पीरियड होगा अनिवार्य

mohini kushwaha

यूपी के डीजीपी पद से रिटायर होंगे सुलखान सिंह, ओपी सिंह होंगे अगले डीजीपी

Breaking News