Breaking News #Meerut देश भारत खबर विशेष यूपी

होटल ऑसम में सेक्स रैकेट की सूचना पर छापेमारी, दर्जनों हिरासत में

होटल ऑसम में सेक्स रैकेट की सूचना पर छापेमारी, दर्जनों हिरासत में
  • संवाददाता, भारत खबर

मेरठ। शहर में देह व्यापार का धंध तेजी से फल-फूल रहा है और इसके संरक्षण में बकायदा राजनेता और स्थानीय प्रभावशाली लोगों का सहयोग भी मिल रहा है। हाल ही में मेरठ के कई क्षेत्रों से अब तक सैकड़ों की तादात में सेक्स वर्कर्स पकड़े जा चुके हैं और लगातार पुलिस की छापेमारी में खुलासे भी हो रहे हैं।

एक दर्जन से अधिक हिरासत में

होटल ऑसम में पुलिस की रेड से जहां मौके पर मौजूद दर्जनभर से अधिक लोगों को हिरासत में लिया गया वहीं होटल संचालक अभी भी फरार है और उसका कोई पता पुलिस को नहीं है। सीओ कैंट संजीव देसवाल और एएचटीयू सीओ की संयुक्त छोपमारी में कई आपत्तिजनक सामाग्रियों भी बरामद हुईं हैं।

इस दौरान होटल में यूपी के विभिन्न जनपदों से आए खिलाड़ी भी मिले लेकिन उन्होंने खेल में प्रतिभाग करने के लिए आने की बात कही और उसका प्रमाण भी दिखया तो पुलिस ने उन्हें छोड़ दिया। इसके अलावा रेड के दौरान कुछ ऐसे जोड़े भी मिले जिनकी सगाई हो चुकी है और शादी की तारीख भी पक्की हो चुकी तश्दीक के बाद पुलिस ने उन्हें भी छोड़ दिया।

हो सकता है बड़ा खुलासा

छापेमारी के बाद पकड़े गए लोगों से पूछताछ के बाद किसी बड़े खुलासे के होने की संभावना है, #भारत_खबर को मिली सूचना में पुलिस ने बताया कि होटल में कमरा बुक करने के लिए ऑनलाइन व्यवस्था का इस्तेमाल होता था। हालाकि सीसीटीवी फुटेज से और भी बड़ा खुलासा होने का संकेत है।

ऑनलाइन होती है बुकिंग

#भारत_खबर को पुलिस ने बताया कि होटल की बुकिंग ओयो वेबसाइट के जरिए होती है और ऑनलाइन व ऑफलाइन तकनीकि से पेमेंट लिया जाता है। विभिन्न जगहों से लोग बुकिंग कर लोग यहां आते हैं और इस प्रकार के अवैध कार्यों को अंजाम देते हैं।

युवाओं का इस ओर आना संकट का प्रतीक

शहर के कई इलाकों में चल रहे होटलों में फैले देह व्यापार के जाल में खासकर युवाओं के फंसने की खबरों से अब समाज खतरे में है। होटल संचालक इस धंधे का समर्थन करते हुए कहते हैं कि बालिग लड़के-लड़की अपनी मर्जी से कुछ भी करें तो इसमें किसी का कोई दोष नहीं है। यही नहीं वो इस बात का हवाला भी देते हैं सुप्रीम कोर्ट ने बालिगों को किसी भी होटल में अपनी मर्जी से आईडी प्रूफ के साथ कमरा लेने पर किसी प्रकार के ऐतराज से छूट दी हुई है। #भारत_खबर आपसे अनुरोध करता है कि इस प्रकार के कार्यों में संलिप्त न होकर अपने जीवन को उज्वल दिशा में ले जाने में फोकस करें।

Related posts

हरिद्वार में अगले साल होगा कुंभ मेले का आयोजन, जानें शाही स्नान का महत्व

Aman Sharma

प्रेम पर पहरा: इश्क में युवक के पिता पर कहर बनकर टूटे लोग, जिंदा जलाया

bharatkhabar

बैंकों ने एनपीए लोन को तीन साल में किया 2.47 करोड़, ममता ने बोला हमला

lucknow bureua